5AC423FB902F99F7B04A6C0E44CE75FA
Breaking News

Diwali के मौके पर गदगद हुआ पूरा देश, इन 4 लोगों ने कर दिया ऐसा काम, जो इतिहास में कभी नहीं हुआ था, जानकर आप भी गौरव महसूस करेंगे

नई दिल्ली ।। अमरीका में हुए मध्यावधि चुनाव में चार भारतीय दोबारा हाउस आॅफ रिप्रेजेंटेटिव में निर्वाचित हुए हैं। वहीं, देशभर में 11 भारतवंशियों ने भी चुनावों में बाजी मारी है। बता दें कि अमरीका में पहली बार मध्यावधि चुनाव पहली बार लोगों में इतना उत्साह दिखा और जमकर वोटिंग हुई थी।

गौरतलब है कि छह नवंबर को हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव की 435 और सीनेट की 35 सीटों के लिए मध्यावधि चुनाव हुआ था। इनके परिणाम अमरीका में रह रहे भारतवंशियों के लिए अच्छे आए हैं। भारतीय मूल के चार राजनेता डेमोक्रेटिक पार्टी के प्रतिनिधि के तौर पर अमरीकन कांग्रेस के निर्वाचित हुए हैं। इसके अलावा भारतीय मूल के 11 अमरीकी राज्यों की असेंबली के लिए निर्वाचित हुए हैं।

पढ़िए- नोटबंदी के 2 साल पूरे- ये कंपनियां हुई मालामाल, करोड़ों रुपयों का हुआ फायदा

अमी बेरा चौथी बार निर्वाचित

तीन बार से अमरीकी संसद के निर्चाचित हो रहे भारतवंशी डॉ. अमी बेरा कैलिफोर्निया से चौथी बार चुने गए हैं। पेशे से डॉक्टर बेरा ने रिपब्लिकन पार्टी के प्रत्याशी एंड्रयू ग्रांट को मात दी है। दूसरी ओर इलिनोइस से डेमोक्रेटिक उम्मीदवार के तौर पर राजा कृष्णमूर्ति दोबारा निर्चाचित हुए हैं। उन्होंने भारतीय मूल के रिपब्लिकन जेडी दिगंकर को 30% प्वाइंट से हराया है।

सिलिकॉन वैली से खन्ना जीते

सिलिकॉन वैली से डेमोक्रेट उम्मीदवार के तौर पर रो खन्ना ने रिपब्लिकन प्रत्याशी रॉन कोहेन को 44% प्वाइंट के अंतर से हराया है। परिणाम के बाद खन्ना ने कहा, हम लोगों तक बात पहुंचाने में कामयाब रहे। हाउस ऑफ रिप्रेंजेटेटिव्स में पहुंचने वाली भारतीय मूल की अकेली महिला डेमोक्रेट प्रत्याशी प्रमिला जयपाल हैं। उन्होंने रिपब्लिकन उम्मीदवार क्रेग केलर को चुनावी मात दी है। प्रमिला को 83 फीसदी से ज्यादा मत मिले हैं।

स्टेट असेंबली में 11 भारतीय

जोश कौल विस्कॉन्सिन में अटॉर्नी जनरल बनने वाले भारतवंशी बने हैं। उन्होंने रिपब्लिकन ब्रेड शीमल को मात दी है। पेशे से वकील डेमोक्रेट प्रत्याशी नीमा कुलकर्णी केंटुकी असेंबली में पहुंची हैं। एरिजोना असेंबली में जीते अमीश शाह ने को पहली बार चुनावी जीत मिली है। जबकि मुजतबा मोहम्मद ने नॉर्थ कैरोलिना सीनेट के लिए निर्वाचित हुए हैं। केविन थॉमस न्यूयॉर्क असेंबली के लिए चुने गए।

जय, वंदना, मेनका दोबारा जीते

27 साल के रिपब्लिकन प्रत्याशी नीरज अटानी ओहियो हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव्स के लिए चुने गए हैं। वे चुनाव जीतने वाले सबसे कम उम्र के भारतीय हैं। जबकि जय चौधरी नॉर्थ केरोलिना राज्य सीनेट के लिए दूसरी बार निर्वाचित हुए हैं। वॉशिंगटन की स्टेट सीनेट में मेनका धींगरा और वंदना स्लेटर दूसरी बार चुनाव जीतकर पहुंची हैं। जबकि कैलीफोर्निया से ऐश कालरा, टेनेंसी से सबी कुमार और मैरीलैंड से कुमार वर्वे निर्चाचित हुए हैं।

फोटो- फाइल

x

Check Also

ईशा अंबानी

शादी के बाद 452 करोड़ के इस आलीशान बंगले में रहेंगी ईशा अंबानी, जानें क्या है खास !

डेस्क। देश के सबसे अमीर व्यक्ति मुकेश अंबानी की बेटी ईशा अंबानी को लेकर एक ...