5AC423FB902F99F7B04A6C0E44CE75FA

खाएं घी लगी रोटी, गिनते रह जाएंगे फायदे, आज से डाले आदत

डेस्क ।। यदि आप रिफाइंड ऑयल में बने पराठे या चपातियों का प्रयोग करते हैं तो रुक जाइए। ऐसा कर के आप अपनी स्वस्थ्य से खिलवाड़ कर रहे हैं। रिफाइंड में पॉलीअनसैचुरेटेड फैटी एसिड्स होते है, जो स्वस्थ्य के लिए खतरनाक होते हैं जबकि इसकी जगह आप शुद्ध घी (Ghee) का प्रयोग करें तो आपको बहुत ही फायदे होंगे।

रोटी में देशी घी (Ghee) लगा कर खाना बहुत जरूरी है। अगर आपको ऐसा लगता है कि ऐसा करने से आपका वेट बढ़ेगा या कोलेस्ट्राल तो आप अपनी सोच को बदल दीजिए बल्कि ये आपकी बीमारियों को सही करने का काम करता है।

पढ़िए-पेट के कीड़े को करें गायब, करें ये घरेलू इलाज

  • अगर आप वेट लॉस प्रोग्राम से जुड़े हैं तो आपके लिए रोटी में घी (Ghee) लगा कर खाना बेहद जरूरी है क्योंकि शुद्ध घी (Ghee) में सीएलए होता है और ये मेटाबॉलिज्म को एक्टिव रखता है। इससे अपका वेट तेजी से कम होता है। ।
  • दिल के लिए घी बहुत लाभकारी है। रोटी में घी (Ghee) लगा कर खाना। ये हार्ट में होने वाली ब्लाकेज को रोकता है। रोटी-घी (Ghee) एक ल्यूब्रिकेंट्स की तरह हार्ट और ब्लड वेसल्स के काम को सुचारू रखते हैं। इससे दिल से जुड़ी बीमारी नहीं होती।
  • घी (Ghee) का स्मोकिंग पॉइंट कम होता है और यही कारण है कि ये दूसरे ऑयल्स की अपेक्षा ज्यादा धुआं देता है। ये पकाते समय आसानी से जलता नहीं और यही कारण है कि ये पचने में बेहद अच्छा है। यही कारण है कि जब आप रोटी और घी (Ghee) साथ खाते हैं तो आपका पाचन शक्त भी बेहरत होता है।
  • घी (Ghee) से ब्लड और आंतों में मौज़ूद कोलेस्ट्रॉल कम होता है क्योंकि इससे बाइलरी लिपिड का स्राव बढ़ता है, जो शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल कोघटाता है और गुड कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाता है।
  • घी (Ghee) और रोटी खाने से ब्लड सेल में जमा कैल्शियम को हटाने में मदद होती है। इससे ब्लड सर्कुलेशन सही रहता है। यह इम्यून सिस्टम को मज़बूत बनाने में मदद करता है।

फोटो- फाइल

Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com