5AC423FB902F99F7B04A6C0E44CE75FA

हिंदुस्तान पहली बार करने जा रहा ‘Make In India’ मिसाइलों का Export, यें देश हैं खरीददार

उत्तराखंड ।। अंतर्राष्ट्रीय नौसिखिया अभ्यास प्रदर्शनी एशिया 14 मई को यहां शुरू हो गया है। इसमें हिंदुस्तान के भी अफसर हिस्सा ले रहे हैं। इंडियन एयर फोर्स की 2 युद्धपोत INS Kolkata और INS Shakti भी इस कार्यक्रम में हिस्सा ले रही है।

वहीं क्षेत्रीय समुद्री अभ्यास करने के बाद 30 देशों के 23 युद्धपोत भी यहां मौजूद हैं। इस बीच कार्यक्रम में हिंदुस्तान के रक्षा मंत्रालय के एक शीर्ष अफसर ने कहा कि हिंदुस्तान इस साल दक्षिण पूर्व एशियाई और खाड़ी देशों को तय हुए ऑर्डर के हिसाब से मिसाइलों की पहली खेप एक्सपोर्ट करेगा।

पढ़िए-हिंदुस्तान में हैक हो रहा है WhatsApp अकाउंट्स, कंपनी ने बताया बचने के लिए ये तरीका

IMDEX एशिया 2019 प्रदर्शनी में भाग ले रहे BrahMos Aerospace में HR के मुख्य महाप्रबंधक, कमोडोर एस के अय्यर ने कहा कि पहला मिसाइल निर्यात होने के लिए तैयार है, सिर्फ सरकार की मंजूरी का इंतजार है। कई साउथ पूर्व एशियाई देश हमारी मिसाइल खरीदने के लिए तैयार बैठे हैं। अय्यर ने मंगलवार को यहां शुरू हुए 3 दिवसीय अंतरराष्ट्रीय समुद्री सम्मेलन में कहा कि ये हमारा पहला निर्यात होगा और हमारी मिसाइलों के प्रति खाड़ी देशों में रुचि बढ़ रही है।

बताया जा रहा है कि हिंदुस्तान अपने रक्षा क्षेत्र के लिए दक्षिण पूर्व एशियाई और खाड़ी देशों को निर्यात में एक अच्छा अवसर देख रहा है। बता दें कि हिंदुस्तान-रूस संयुक्त उद्यम ब्रह्मोस और रक्षा कंपनी एलएंडटी डिफेंस ऑफ लार्सन एंड टुब्रो लिमिटेड, दक्षिण पूर्व एशियाई बाजारों के लिए IMDEX में रक्षा उपकरणों की एक विस्तृत श्रृंखला का प्रदर्शनी कर रही है।

आपको बता दें कि IMDEX 2019 प्रदर्शनी में 236 से ज्यादा रक्षा कंपनियां भाग ले रही हैं। 10,500 से ज्यादा प्रतिनिधि और व्यापार दर्शक भी इस कार्यक्रम में भाग ले रहे हैं। एयर फोर्स रक्षा क्षेत्र के 400 से ज्यादा प्रतिनिधि अंतर्राष्ट्रीय समुद्री सुरक्षा सम्मेलन में भाग ले रहे हैं।

फोटो- फाइल

Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com