5AC423FB902F99F7B04A6C0E44CE75FA

भाई मुलायम का बहन कर रही थी इंतजार, शिवपाल ने पहुंचकर जीत लिया दिल, कर दिया बड़ा ऐलान

उत्तर प्रदेश ।। नवगठित प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव आज अपनी इकलौती बहन कमला देवी के फ्रैंडस कालोनी स्थित आवास पर दीपावली पर्व पर भैया दूज के मौके पर आर्शीवाद लेने पहुंचे।

शिवपाल सिंह यादव इससे पहले भी अपनी बहन के यहां पर उनका आर्शीवाद लेने के लिए होली, दीपावली और रक्षाबंधन जैसे अहम पर्व पर हमेशा से पहुंचते रहे है और प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) का गठन कर के बाद भी पहुंचे है।

इस मौके पर बदांयू के सांसद धर्मेद्र यादव के पिता अभयराम सिंह यादव भी शिवपाल सिंह यादव के साथ अपनी बहन से टीका कराने के लिए पहुंचे हुए थे। अभयराम सिंह यादव भी एक तस्वीर मे बैठे हुए नजर आ रहे है।

पढ़िए- सपा में शिवपाल की वापसी को लेकर बड़ी खबर आई सामने, मुलायम के चलते मजबूर हुए अखिलेश यादव, लेना पड़ा ये फैसला

वैसे इस मौके पर शिवपाल सिंह यादव के बहनोई डॉ. अंजट सिंह यादव नजर आया करते थे लेकिन इस दफा उनकी मौजूदगी यहां पर नहीं देखी गई है। 1989 में पहली बार मुलायम सिंह यादव उत्तर प्रदेश के सत्ता पर मुख्यमंत्री के तौर पर ताजपोसी के बाद से लगातार मुलायम सिंह यादव अपनी बहन कमला देवी के यहां भईया दौज आते रहें है।

यदाकदा कभी कोई समस्या होती है तो कमला देवी लखनऊ अपने भाई मुलायम सिंह यादव के यहां पहुंच जाया करती थी लेकिन इस दफा ना तो कमला देवी मुलायम सिंह यादव के यहां गई और ना ही मुलायम सिंह यादव कमलादेवी के यहां पर आये ।

सिर्फ इतना ही नहीं अखिलेश यादव ने भी कमलादेवी के यहां आना मुनासिब नहीं समझा है हालांकि इससे पहले 2012 में मुख्यमंत्री बनने के बाद अखिलेश यादव अपने पिता मुलायम सिंह यादव के साथ में कई दफा अपनी बुआ कमलादेवी यहां पर आ चुके हैं । जहां तक रक्षाबंधन पर कमलादेवी के यहां आने की रही तो केवल शिवपाल सिंह यादव अपनी बहन के यहां पर आये हैै।

समाजवादी पार्टी से अभी तक पूरी तरह से अलग ना होने के बावजूद भी शिवपाल सिंह यादव ने प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) को गठन अपनी ताकत दिखाने के इरादे से कर लिया है।

कहा यह जा रहा है कि अपने भतीजे और पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव के व्यवहार से नाखुश हो कर शिवपाल सिंह यादव ने अपने बड़े भाई मुलायम सिंह यादव की रजामंदी के बाद प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) का गठन कर अपनी ताकत दिखाने में जुट गये है। प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) की बढ़ती ताकत को देख कर खुद मुलायम सिंह यादव बेटे और भाई दोनों की पार्टियां में हिस्सेदारी करते हुए देखे जा रहे है मुलायम के इस रूख पर लोग कई तरह के सवाल भी खड़े करते हुए दिख रहे है।

फोटो- फाइल

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com