5AC423FB902F99F7B04A6C0E44CE75FA

पीएम मोदी सहित इन 6 की बढ़ी मुश्किल, हाईकोर्ट ने तेज बहादुर की अपील पर सुनाया फैसला

नई दिल्ली ।। आर्मी में जवानों को खराब खाना देने को लेकर वीडियो वायरल कर सुर्खियों में रहे BSF के बर्खास्त जवान तेज बहादुर यादव ने लोकसभा चुनाव में पीएम मोदी के खिलाफ पर्चा भरा था,जिसको कथित रूप से दांव-पेच लगाकर अधिकारियों ने रद्द कर दिया।अब पूर्व जवान तेज बहादुर ने इलाहाबाद हाईकोर्ट में चुनाव रद्द करने के लिए रविवार को पिटीशन फाइल दाखिल की है।जिसको इलाहाबाद हाईकोट ने मंजूर कर लिया गया है।

इसमें मुख्य रूप से 6 लोगों को पार्टी बनाया गया है-1.मुख्य निर्वाचन आयुक्त,2.जिला निर्वाचन अधिकारी सुरेंद्र सिंह,3.चुनाव पर्यवेक्षक के. प्रवीण कुमार 4.नरेंद्र मोदी पुत्र दामोदरदास मोदी,5.मुख्तार पुत्र अज्ञात आजाद उम्मीदवार, 6.एक न्यूज टीवी चैनल

पढि़ए-अगर नहीं बनवाया है Driving License तो आपके लिए खुशखबरी, मोदी सरकार ने किया ये बड़ा ऐलान

तेज बहादुर ने बताया कि मैंने अपना सारा ब्यौरा दिया था उसके बावजूद मेरा नॉमिनेशन रद्द कर दिया गया,जबकि स्वयं पीएम मोदी ने अपने परिवार का ब्यौरा नहीं दिया,उनका भी नॉमिनेशन रद्द होना चाहिए था लेकिन सत्ता के प्रभाव में वह चुनाव निर्वाचन आयोग नहीं कर सका।

तेज बहादुर ने आगे कहा कि एशिया की सबसे बड़ी इलाहाबाद हाईकोर्ट ने रविवार छुट्टी ने दिन याचिका दाखिल कर न्याय की गरिमा को बढ़ाया है।इसके लिए वह कोर्ट का दिल से शुक्रिया अदा करते हैं।

बता दें कि जनवरी 2017 में इस BSF के जवान ने आर्मी में दिए जाने वाले खाने पर सवाल खड़े करते हुए वीडियो वायरल किया था।लेकिन आर्मी में पनप रहे भ्रष्टाचार की आवाज उठाने वाले जवान तेज बहादुर को नौकरी से बर्खास्त कर बाहर का रास्ता दिखा दिया गया था।इसी को लेकर मोदी के खिलाफ 17वीं लोकसभा में वाराणसी क्षेत्र से चुनाव लडऩे के लिए नॉमिनेशन किया था।जिसको कानूनी दाव-पेच लगाकर रद्द कर दिया गया था।

फोटो- फाइल

Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com