5AC423FB902F99F7B04A6C0E44CE75FA
Breaking News

VIDEO: व्हिस्की में विष्णु…रम में बसे राम… जिन में…, कहने वाले नरेश अग्रवाल का बीजेपी ने किया स्वागत

यूपी किरण ऑनलाइन, खबरों की Update पाने के लिए Facebook पेज @upkiran.news लाइक करें!

नई दिल्ली।। ‘व्हिस्की में विष्णु , रम में बसे राम … जिन में जानकी , देशी में हनुमान।’ नरेश अग्रवाल ने भाजपा का दामन थाम लिया है। ये वही नरेश अग्रवाल हैं जिन्होंने सदन में एक बेहद आपत्तिजनक बयान दिया था। नरेश अग्रवाल के इस बयान के बाद भाजपा ने जमकर हंगामा कटा था। बीजेपी युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने नरेश अग्रवाल के घर के बाहर लगी नेम प्लेट पर कालिख पोत दी थी। सदन में उस समय समाजवादी पार्टी के नेता नरेश अग्रवाल ने राज्यसभा में भगवान राम, जानकी और हनुमान को लेकर शर्मनाक और अभद्र टिप्पणी के बाद राज्यसभा में सत्ता पक्ष ने जमकर विरोध किया, जिसके कारण सदन की कार्यवाही दो बार स्थगित करनी पड़ी थी।

www.upkiran.org

यहीं नहीं तब भाजपा के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली और अनंत कुमार ने कहा था कि सदन के बाहर ऐसी भाषा के लिये आप पर FIR हो सकता है। उप-सभापति ने आदेश दिया था कि नरेश अग्रवाल के बयान को सदन की कार्यवाही से हटा दिया जाये। नरेश अग्रवाल ने सदन में ‘भीड़ द्वारा पीट-पीट कर हत्या किये जाने के मुद्दे’ पर चर्चा में हिस्सा लेते हुये कहा था। उन्होंने राम जन्मभूमि आंदोलन का जिक्र किया और भगवान राम, जानकी और हनुमान का शराब (अल्कोहल) से जोड़ते हुए एक कविता पढ़ी। सांसद नरेश अग्रवाल ने कहा कि, “व्हिस्की में विष्णु, रम में बसे राम…जिन में…जानकी,…देशी में हनुमान।’

Live- नरेश अग्रवाल BJP में हुए शामिल, सियासत गर्म

हालाँकि उस समय इसका सत्ता पक्ष के सदस्यों ने जोरदार विरोध किया और यहाँ तक कि उप-सभापति पीजे कुरियन से इसे सदन की कार्यवाही से निकालने की मांग करते हुये अग्रवाल से माफी मांगने को कहा था।

दुखद: सड़क हादसे में प्रमोद तिवारी और के डी शर्मा की मौत, रायबरेली के…

हालाँकि तब नरेश अग्रवाल ने मीडिया से बात करते हुए कहा था कि, “मैंने किसी को कोई मौका नहीं दिया, मैंने सिर्फ अपना बयान वापस लिया। अगर बीजेपी ने अब बयान को लेकर किसी भी तरह की जिद की तो हम सदन में एक भी बिल पास नहीं होने देंगे, बीजेपी अपने मन से गलतफहमी निकाल दे।”

घोटाले में फंसी IAS अफसर परिवार सहित फरार, पति ने…

उस समय राज्यसभा में सपा के सांसद नरेश अग्रवाल द्वारा हिन्दु देवी-देवताओं पर की गयी बेहद शर्मनाक टिप्पणी की को लेकर संसद में जोरदार हंगामा हुआ। यह वाकया उस वक्त हुआ जब संसद में गोरक्षा और मॉब लिंचिंग के मुद्दे पर सुनवाई चल रही थी। इसी दौरान नरेश अग्रवाल ने हिंदू देवी-देवताओं को लेकर ये आपत्तिजनक बयान दे दिया। जिसके बाद नरेश अग्रवाल को मांफी भी मांगनी पड़ी थी।

धोनी के बाद शमी के समर्थन में आए ससुर, कहा…शमी एक…

समाजवादी पार्टी द्वारा जया बच्चन को राज्यसभा उम्मीदवार बनाये जाने के बाद भड़के नरेश अग्रवाल ने यह कहकर सपा से नाता तोड़ लिया कि टिकट काटकर एक नाचने गाने वाली को टिकट दे दिया गया। हालाँकि नरेश अग्रवाल ने पहली बार दल-बदल नहीं किया है बल्कि दल-बदल का उनका पुराना इतिहास रहा है। उनके बारे में यह कहा जाता रहा है कि उनका झुकाव हमेशा से सत्ता की ओर रहा है।

 

यूपी किरण ऑनलाइन, खबरों की Update पाने के लिए Facebook पेज @upkiran.news लाइक करें!

 

सचिव बनने के लिए जन्मतिथि बदलकर फ्राड करने वाले पूर्व आईएएस ने पत्रकार को दी धमकी

x

Check Also

सुबह-सुबह उठकर गर्लफ्रेंड जसलीन के साथ अनूप जलोटा करते हैं ये काम

नई दिल्ली ।। Big Boss Season 12 की शुरुआत में ही जसलीन के साथ अपने ...