बिना अवकाश के जिलाधिकारी ने रचायी अपनी शादी, जानें पूरा मामला..

कछार की जिलाधिकारी का विवाह पूरे राज्य में चर्चा का विषय बना हुआ है। कोरोना काल के चलते सभी सरकारी अधिकारी अपने कर्तव्यों का पालन करने के लिए लगातार ड्यूटी को अंजाम देने में जुटे हुए हैं।

कछार (असम), 10 सितम्बर यूपी किरण। कछार की जिलाधिकारी का विवाह पूरे राज्य में चर्चा का विषय बना हुआ है। कोरोना काल के चलते सभी सरकारी अधिकारी अपने कर्तव्यों का पालन करने के लिए लगातार ड्यूटी को अंजाम देने में जुटे हुए हैं। ऐसे में कछार जिला की जिलाधिकारी कीर्ति जली भी कोरोना की लड़ाई में पूरी तन्मयता के साथ जुटी हुई हैं। उनका विवाह पूर्व निर्धारित था। लेकिन, कोरोना काल के चलते उन्होंने अपने विवाह के लिए छुट्टी न लेते हुए अपने सरकारी कार्यालय में ही विवाह करने का फैसला लिया।

       

विवाह कार्यक्रम में उनके परिजन भी हिस्सा नहीं ले पाए। दो दिन पूर्व दुल्हा कछार जिला मुख्यालय शहर सिलचर में पहुंच गया। दुल्हे का नाम आदित्य शशीकांत है। दुल्हन जहां आईएएस अधिकारी हैं, वहीं दुल्हा व्यवसायी हैं।

जानकारी के अनुसार जिलाधिकारी का विवाह बुधवार को हुआ। विवाह कार्यक्रम में कोई विशेष अतिथि आमंत्रित नहीं किये गए । कोरोना के मद्देनजर विवाह कार्यक्रम को बेहद छोटे स्तर पर आयोजित किया गया, जिसमें पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी व अन्य अधिकारियों ने हिस्सा लिया।

कोरोना की वजह से जिलाधिकारी कीर्ती जली अपने घर नहीं जा सकीं। जिसके चलते रिश्तेदारों को भी आमंत्रित नहीं किया गया। कोरोना के नियमों का पालन करते हुए विवाह कार्यक्रम की सभी रश्में निभाई गईं। विवाह में सिर्फ कीर्ति जली की बहन ही शामिल हो पाईं। जिलाधिकारी का यह विवाह समूचे कछार जिले में चर्चा का विषय बना हुआ है।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *