रोजगारपरक प्रशिक्षण से जुड़ेंगी किशोर-किशोरियां और महिलाएं

महिलाओं और बालिकाओं के सुरक्षा, सम्मान व स्वावलंबन के लिए जनवरी से फरवरी माह तक विविध कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे।

महराजगंज। महिलाओं और बालिकाओं के सुरक्षा, सम्मान व स्वावलंबन के लिए जनवरी से फरवरी माह तक विविध कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। मिशन शक्ति कार्यक्रम के तहत दृष्टिगत महिला कल्याण विभाग तथा बाल विकास सेवा एवं पुष्टाहार विभाग (आईसीडीएस) द्वारा संयुक्त रूप से कार्ययोजना बनाकर गतिविधियों का आयोजन किया जाएगा।

रोजगारपरक

मुख्य विकास अधिकारी पवन अग्रवाल ने बताया कि जनवरी से फरवरी माह तक दोनों विभागों द्वारा कार्यक्रमो का आयोजन होगा। 15 जनवरी तक रोजगार और रोजगारपरक प्रशिक्षण से जोड़े जाने वाले किशोर-किशोरियों तथा महिलाओं का चिन्हांकन किया जाएगा। जेंडर चैंपियंस तथा मेधावी छात्राओं की पहचान और तथा पुलिस फैस्लीटेशन ऑफिसर की नियुक्ति / नामांकन करने की भी प्रक्रिया शुरू है।

18 से 20 जनवरी के बीच बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ , बाल संरक्षण समिति, बाल विवाह टॉस्क फोर्स की संयुक्त समीक्षा बैठक की जाएगी। वहीं पर 21 जनवरी को जेंडर चैंपियंस तथा मेधावी छात्राओं को सम्मानित किया जाएगा और 22 जनवरी को कन्या जन्मोत्सव मनाया जाएगा।

उन्होंने कहा कि 23 जनवरी को वन स्टॉप केन्द्रों का उदघाटन तथा पुलिस फैस्लीटेशन आफिसर का सम्मान किया जाएगा, 24 जनवरी को ‘नायिका ‘ मेगा इवेंट का आयोजन होगा, जबकि 25 जनवरी को मुख्य स्थानों पर गुड्डा-गुड्डी बोर्ड की स्थापना की जाएगी।

गणतंत्र दिवस के अवसर पर बालिकाओं/ जैंडर चैंपियंस महिलाओं द्वारा झंडारोहण किया जाएगा, 27 जनवरी से 13 फरवरी के बीच जागरूकता अभियान चलाया जाएगा। इसके बाद 18 फरवरी को प्रशासन की पाठशाला कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा।
24 फरवरी को जिलाधिकारी के साथ हक की बात होगी, जबकि 25 फरवरी को बाल संरक्षण समिति को बैठक होगी। कार्यक्रम एवं गतिविधियों को सकुशल संपन्न कराने के लिए जिला प्रोबेशन अधिकारी तथा जिला कार्यक्रम अधिकारी को जिम्मेदारी सौंपी गयी है।

21 को सम्मानित व पुरस्कृत की जाएंगी मेधावी छात्राएं

जिला प्रोबेशन अधिकारी डीसी त्रिपाठी ने बताया कि 21 जनवरी को जेंडर चैंपियंस तथा मेधावी छात्राओं को सम्मानित व पुरस्कृत किया जाएगा।राज्य बोर्ड से 10 वीं व 12 वीं की कक्षा में प्रथम दस स्थानों पर परीक्षा उत्तीर्ण करने वाली 10-10 मेधावी छात्राओं को 5000 का नकद पुरस्कार ( प्रति छात्रा) जबकि 12वीं कक्षा में जिले में पहला स्थान लाने वाली छात्रा को ( पढ़ाई जारी रखने पर) 20 हजार का नकद पुरस्कार दिया जाएगा। इसके लिए जिला विद्यालय निरीक्षक से संबंधित छात्राओं की सूची मांगी गयी है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *