हिंदुस्तान के बाद अब चीन ने ली इस देश से दुश्मनी, बिगड़ सकते हैं हालात, सीमा पर तैनात॰॰॰

चीन अब भूटान के कुछ इलाकों को कब्जाना चाहता है।

नई दिल्ली॥ पाकिस्तान की तरह अपनी गंदी साजिशों के लिए मशहूर चीन अब भूटान के कुछ इलाकों को कब्जाना चाहता है। पीएलए भूटानी क्षेत्रों पर हक जमाने की तैयारी कर रही है। जिसको पूरा करने से हालात बिगड़ सकते हैं।

CHINA flag

हिंदुस्तान ने इस ताजा घटनाक्रम से भूटान की सरकार को बता दिया है। ड्रैगन भूटान के साथ बॉर्डर विवाद का फैसला अपना हक में लाने के लिए उस पर दबाव बना रहा है एवं वर्तमान तैयारी उसी का हिस्सा है। 2017 में डोकलाम विवाद के बाद से चीन भूटान सीमा के पास सड़क, हेलीपैड तैयार करने में लगा है, साथ ही वहां जंग-जूओं का जमावड़ा भी बढ़ गया है।

बीते कुछ महीनों में चीन ने पश्चिमी भूटानी क्षेत्रों के पांच क्षेत्रों में घुसपैठ की और भूटान के भीतर करीबन 40 किलोमीटर एक नई सरहद का दावा किया है। बीते माह अगस्त में पीएलए ने साउथ डोकलाम क्षेत्र में भी घुसपैठ की थी। चीन भूटान पर दबाव बना रहा है कि वो गयमोचेन क्षेत्र तक बॉर्डर विस्तार को स्वीकार कर लें।

हर हरकत पर हिंदुस्तान की नजर

सुरक्षा एजेंसी के एक सूत्र ने बताया कि हम हिंदुस्तान-चीन और चीन-भूटान बॉर्डर पर ताजा घटनाक्रम पर नजर बनाए हुए हैं। डोकलाम गतिरोध के बाद से PLA आक्रामक रूप से भूटान-चीन बॉर्डर पर गश्त कर रही है तथा भूटान सरहद के निकट सड़कों, सैन्य बुनियादी ढांचे और हेलीपैड का निर्माण किया जा रहा है। चीन भूटान के पश्चिमी सेक्टर में 318 वर्ग KM तथा सेंट्रल सेक्टर में 495 वर्ग KM पर दावा जताता है।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *