अतिक्रमण हटने के बाद दुकानदारों के सामने आई परिवार के भरण पोषण की समस्या

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अतिक्रमण हटाओ अभियान के शख्त आदेशो का पालन करते हुए प्रशासन ने...

पनियरा (महराजगंज)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अतिक्रमण हटाओ अभियान के शख्त आदेशो का पालन करते हुए प्रशासन ने पनियरा नगर पंचायत में बुलडोजर चलाकर अतिक्रमण को खाली कराने का कार्य प्रारंभ कर दिया है। वही गरीब व असहाय लोगो को हटाने से पहले उनकी उचित व्यवस्था करने के फरमान को अधिकारी दर किनार करते हुए अतिक्रमण हटाने का कार्य कर रहे है।

maharaj ganj

लिहाजा पनियरा नगर में अतिक्रमण खाली होने के बाद कुछ ऐसे गरीब तबके के लोग है, जो ठेले, रेडी, गुमटी लगाकर अपनी आजीविका चलाते थे, ठेले, गुमटी हटने के बाद से उन्हें अपने परिवार के भरण पोषण के लिए दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

सुभाष शर्मा पनियरा कस्बा में मस्जिद के पास एक गुमटी डालकर नाई का काम करते थे। जिससे उनके परिवार का भरण पोषण तो होता ही था। साथ ही बच्चों के पढ़ाई लिखाई का कार्य भी होता था। जीविका चलाने के लिए दुकान ही एक मात्र सहारा था। शनिवार को प्रशासन द्वारा दुकान को बुलडोजर से उखाड़ दिया गया। जिससे दुकान के अंदर रखा सामान छतिग्रस्त हो गया।

सूर्यनाथ मौर्या,अनिल व लक्ष्मण मौर्या पनियरा नगर के पास सड़क के किनारे ठेला लगा कर दुकान करते थे। लेकिन शनिवार को अतिक्रमण हटने के बाद से परिवार चलाना मुश्किल हो गया है। दुकान ही एक मात्र सहारा था जिससे रोजमर्रा की वस्तुओं को खरीदा जा सकता था।

कैलाश गुप्ता, राहुल गुप्ता गुमटी डालकर जीवन यापन करते थे। उनके आय का एक मात्र साधन उनका दुकान था।मगर प्रशासन ने उसको भी खाली करा दिया। अब परिवार का भरण पोषण करना मुश्किल हो गया है। ऐसे में प्रशासन द्वारा ठेले, गुमटी वाले लोगो को विस्थापित करने के बजाय उनको हटाया जा रहा हैं।

अधिशासी अधिकारी राजनाथ यादव ने बताया कि रोड पटरी वाले दुकानदारों के लिए जगह उपलब्ध किया जा रहा है। जिसमे चार जोन निर्धारित किए गए है। पहला नगर पंचायत कार्यालय से थकहिया रोड तक, दूसरा रहसुगुर मंदिर से के करबला तक, तीसरा ब्लॉक से बसडीला तक, वही चौथे स्थान की तलाश की जा रही है।