अजब गजब: यहां कुत्तों से भी कमजोर हैं शेर, दिख रही हैं हड्डियां, चलने में भी होती है मुश्किल

वैसे तो जानवरों के लिए चिड़ियाघर किसी कैद से कम नहीं होता है। इंसानों ने जानवरों की जिंदगी पर भी पर खासा इफेक्ट डाला है। इंसान ने जहां खुद कि सुख

वैसे तो जानवरों के लिए चिड़ियाघर किसी कैद से कम नहीं होता है। इंसानों ने जानवरों की जिंदगी पर भी पर खासा इफेक्ट डाला है। इंसान ने जहां खुद कि सुख सुविधाओं के लिएजंगलों की कटाई की है, तो वहीं मंनोरजन के लिए कुछ जानवरों को कैद करके चिड़िया घर में डाल दिया है। कई जानवरों जंगल के आलावा कहीं भी नहीं रह पाते हैं।

Nigeria Zoo

ऐसे में वो अधिक गुस्सा करने लगते हैं। यही वजह है कि कुछ चिड़ियाघर में जानवरों कि हालत इतनी खराब हो गई है कि उनकी हड्डियां तक दिखने लगी हैं। एक पर्यटक ने नाइजीरिया के ऐसे ही एक चिड़ियाघर की तस्वीरें एक इंटरनेशन एनजीओ को भेजी हैं जिसमें एक शेर बेहद कमजोर हालत में दिखाई दे रहा है। अब ये तस्वीर सोशल मीडिया पर तेज़ी से वायरल हो रही है।

कंकाल में बदल रहे शेर

बीते साल एक पर्यटक ने नाइजीरिया के एक चिड़ियाघर की तस्वीरों को एक एनजीओ के पास भेजा। इन तस्वीरों में कैद शेर काफी कमजोर दिख रहे थे। उनकी हड्डियां दिखने लगी थी। ऐसा लग रहा था कि वे शेर नहीं बल्कि शेर के कंकाल है। भूख और कमजोरी कि वजह से उन शेरों से चला भी नहीं जा रहा था। देखने में वो कुत्ते से भी कमजोर दिखाई दे रहे थे। तस्वीर मिलते ही एनजीओ ने एक्शन लिया और उन शेरों को उस चिड़ियाघर से रेस्क्यू करा लिया।

खाने पर टूट पड़े शेर

बता दें कि शख्न ने जिस इंटरनेशनल एनजीओ को तस्वीरें शेयर कि थीवह अवैधानिक तरीके से ट्रेड किए गए जंगली जानवर और जू में खराब स्थिति में रखे जाने वाले जानवरों के रेस्क्यू करने का काम करता है। एनजीओ ने तस्वीर मिलते ही रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू कर दिया। एनजीओ के स्पोक्सपर्सन ने बताय कि जब उनकी टीम शेरों को रेस्क्यू करने गई तो शेर बेहद दुबले पतले नज़र आ रहे थे। उन्हें वहां से रेस्क्यू कर मेडिकल केयर दी गई और खाने को दिया गया। शेरों ने जैसे ही खाना देखा वे उस पर उस पर टूट पड़े।