लखीमपुर घटना में हुआ में एक और सनसनीखेज खुलासा, चश्मदीद बोला- सबके पास थी तलवारें; लगाए खालिस्तान जिंदाबाद के नारे

वारदात के वक्त उपस्थित चश्मदीद का कहना है कि जिस वक्त ये घटना हुई वो एक दर्दनाक का मंजर था

उप्र॥ राज्य के जिले लखीमपुरी खीरी में 3 अक्टूबर को किसानों तथा भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं के मध्य हुई हिंसा का इल्जाम केन्द्रीय राज्‍य मंत्री अजय कुमार मिश्रा टेनी के बेटे पर लग रहा है। तो वहीं इस घटना में उनके बेटे आशीष मिश्रा पर मुकदमा दर्ज होने के बाद अब घटना के चश्मदीद ने नया खुलासा कर सबको चौंका दिया है।

lakhimpur kheri news

जानकारी के मुताबिक वारदात के वक्त उपस्थित चश्मदीद का कहना है कि जिस वक्त ये घटना हुई वो एक दर्दनाक का मंजर था। उन्होंने कहा कि हम उप-मुख्यमंत्री का स्वागत करने जा रहे थे किंतु अचानक लोगों ने अटैक कर दिया। चश्मदीद ने कहा कि यदि वो मुझे पकड़ लेते तो मैं जिंदा आपके सामने नहीं होता, मेरा भी कत्ल कर देते। वहां पर मौजूद सभी के हाथों में खतरनाक हथियार थे और लहराते हुए खालिस्तान जिंदाबाद के नारे लगा रहे थे।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, इस खौफनाक घटना के पश्चात चश्मदीद ने बताया कि हमलावर गाड़ियों में मंत्री जी के बेटे आशीष मिश्रा को तलाश रहे थे, यदि वे वाहन में होते तो वो कल का दिन नहीं देख पाते। मैं भी अपनी जान बचाने के लिए मौके से भाग निकला।

चश्मदीद ने आगे कहा कि हम लोग जब जा रहे थे तो भीड़ ने सामने से हमला किया और हथियारों से मारना शुरू कर दिया। उन सभी लोगों के हाथ में तलवार, लाठी, डंडा लेकर हम लोगों की वाहन पर धावा बोल रहे थे, वे हमें जान से मारना चाहते थे। साथ ही चारों तरफ उपस्थित भीड़ खालिस्तान जिंदाबाद के नारे लगा रही थी। इसी दौरान मैं वहां से भाग निकला और अपनी जान बचाई।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *