पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी, उन पर लगा है ये आरोप

पाकिस्तान की भ्रष्टाचार विरोधी संस्था नेशनल अकाउंटेबिलिटी ब्यूरो ने पूर्व राष्ट्रपति और पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के नेता आसिफ अली जरदारी के खिलाफ 8 बिलियन पाकिस्तानी रुपये के भ्रष्टाचार के आरोप में गिरफ्तारी वारंट जारी किया है।

इस्लामाबाद, 15 अक्टूबर, यूपी किरण। पाकिस्तान की भ्रष्टाचार विरोधी संस्था नेशनल अकाउंटेबिलिटी ब्यूरो ने पूर्व राष्ट्रपति और पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के नेता आसिफ अली जरदारी के खिलाफ 8 बिलियन पाकिस्तानी रुपये के भ्रष्टाचार के आरोप में गिरफ्तारी वारंट जारी किया है।
मीडिया सूत्रों के अनुसार आसिफ अली जरदारी के फेक अकाउंट में संदिग्ध लेनदेन के केस के संबंध में इस्लामाबाद हाईकोर्ट की 2 जजों वाली बेंच अंतरिम जमानत याचिका पर फैसला करेगी।
आसिफ अली जरदारी पर यह केस तब हुआ है जब मुख्य विपक्षी दलों ने साथ आकर इमरान सरकार को पद से हटाने के लिए एक पाकिस्तान डेमोक्रेटिक मूवमेंट नाम का गठबंधन बनाया है। कई जगहों पर जनता पाकिस्तान तहरीक- ए- इंसाफ (पीटीआई) के खिलाफ उग्र प्रदर्शन कर रही है। इस गठबंधन को कमजोर करने के लिए इमरान सरकार विपक्षी दलों के नेताओं पर कार्रवाई कर रही है।
इसी साल सितम्बर में इस्लामाबाद के एक कोर्ट ने पूर्व राष्ट्रपति और अन्य लोगों पर फेक अकाउंट से मनी लॉन्ड्रिंग के आरोप में अभियोग लगाया था।
जरदारी एनएबी द्वारा भ्रष्टाचार के कई आरोपों में नामित हैं। जरदारी को पिछले साल इस्लामाबाद हाईकोर्ट ने चिकित्सा के नाम पर जेल से रिहा किया था। पिछले सप्ताह इनको अस्पताल में स्थानांतरित किया गया था जब उनकी तबीयत अचानक रविवार को बिगड़ गई थी ।
पीपीपी ने एक बयान जारी कर कहा कि डॉक्टर उनकी जरूरी जाँच कर रहे हैं । उनको कराची के अस्पताल में स्थानांतरित किया गया है ।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *