लखनऊ के इन 17 चौराहों पर हुआ कुछ ऐसा कि अफसरों में मच गया हड़कंप, फिर पुलिसवालों ने…

इस सूचना के आधार पर यातायात प्रबंधन की टोली ने जांच की तो इसकी वजह विद्युत बिल निस्तारण न होना पाया गया। 

लखनऊ। लखनऊ में यातयात नियंत्रण कार्यालय को सुबह 11 बजे सूचना मिली कि शहर के भीतर 17 चौराहों पर हरी-लाल बत्ती का संचालन बंद हो गया है। इस सूचना के आधार पर यातायात प्रबंधन की टोली ने जांच की तो इसकी वजह विद्युत बिल निस्तारण न होना पाया गया।
There was a stir among officers in Lucknow
यातायात प्रबंधन में हरी-लाल बत्ती के संचालन के सुचारु रुप से न होने पर शहर की यातायात व्यवस्था बिगड़ गयी। विभिन्न चौराहों पर यातायात व्यवस्था देख रहे पुलिसकर्मियों ने इस बाबत उच्च अधिकारियों और यातायात उपायुक्त ख्याति गर्ग तक सूचना दी।
17 चौराहों पर एक साथ यातायात समस्या आने के बाद उसे सुचारु रुप से करने में समय लगा। तभी तक यातायात से जुड़े अधिकारियों के हाथ पांव फूल गये और उन्होंने मीडिया के फोन उठाना भी बंद कर दिया। इस दौरान कुछ भाजपा नेताओं एवं सामाजिक कार्यकर्ताओं ने भी फोन से वार्ता करने का प्रयास किया, जो सफल नहीं हो सके।
बता दें कि, लखनऊ में 17 चौराहों हजरतगंज चौराहा, इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान चौराहा, सिकंदर बाग चौराहा, सीएमएस चौराहा, हनीमैन चौराहा, कठौता चौराहा, ग्वारी चौराहा, मनोज पांडे चौराहा, एलडीए मोड़ चौराहा, अब्दुल हमीद चौराहा, कटाई पुल चौराहा, राम राम बैंक चौराहा, आईटी चौराहा, लाल बत्ती चौराहा, दरियाबाद चौराहा, परिवर्तन चौक, कचहरी चौराहा पर हरी-लाल बत्ती का प्रबंधन कुछ घंटों के लिए बंद पाया गया। जहां स्थानीय थाने के पुलिसकर्मियों और यातायात प्रबंधन से जुड़े पुलिसकर्मियों ने यातायात व्यवस्था सम्भाली।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *