औरैया से दर्दनाक घटना आई सामने, संदिग्ध परिस्थितियों में मां और बच्चों की मौत

गुरुवार को नगर के समीप के गांव सेहुद में हैरान कर देने वाली घटना जिसमें 3 बच्चों के साथ मां की मौत को लेकर मृतका के भाई ने पति सास, ससुर व देवर के विरूद्ध हत्या का मामला दिबियापुर थाने में दर्ज कराया है।

औरैया, 02 अक्टूबर यूपी किरण। गुरुवार को नगर के समीप के गांव सेहुद में हैरान कर देने वाली घटना जिसमें 3 बच्चों के साथ मां की मौत को लेकर मृतका के भाई ने पति सास, ससुर व देवर के विरूद्ध हत्या का मामला दिबियापुर थाने में दर्ज कराया है।
         
दिबियापुर थाने मृतका के भाई बृज बिहारी पुत्र सिपाही लाल निवासी आमानपुर थाना सहायल जनपद औरैया ने बताया कि उसकी बहन साधना उम्र 28 वर्ष की शादी कुलदीप पुत्र कैलाश चंद निवासी सेहुद थाना दिबियापुर जनपद औरैया के साथ करीब 10 वर्ष पूर्व हुई थी। शादी के बाद से ससुराली जन उसे तंग किया करते थे जिसको लेकर के न्यायालय में एक मुकदमा भी चला। लेकिन समझौता के बाद 1 वर्ष से उसकी बहन साधना ससुराली जनों एवम पति कुलदीप के साथ ससुराल में अपनी तीन बेटियों जिनमें गुंजन 7 वर्ष, अंजुम 3 वर्ष और ओजस्विनी 15 दिन के साथ रह रही थी। गुरुवार की दोपहर में उसे जानकारी मिली कि तुम्हारी बहन की मौत हो गई है। जिस पर वह बहन की ससुराल सेहुद उसके घर पहुंचा तो बहन साधना उसकी तीनों बेटियों के शव घर में पड़े थे। उसने बताया कि ससुरालीजन अक्सर मेरी बहन को तीन बच्चियों को लेकर ताने मारा करते थे।    इसी के चलते पति कुलदीप, सास विटोली देवी, ससुर कैलाश चन्द्र व देवर राहुल ने बहन सहित तीनों बच्चियों की भी हत्या कर दी।
 वहीं, पुलिस ने देर रात पति कुलदीप सहित सभी आरोपियों के विरूद्ध हत्या का मामला तो दर्ज कर लिया लेकिन पोस्ट मार्टम रिपोर्ट में हैंगिंग की जानकारी मिलने पर मौत के लिए उकसाने के मामले में परिवर्तित कर पति को गिरफ़्तार कर जेल भेज दिया है।
सेहुद में ग्रामीण करते रहे घटना की चर्चा, गली में पसरा रहा सन्नाटा पोस्ट मार्टम में हैंगिंग से मौत दर्शाई
सेहुद गांव में तीन बेटियों के साथ मां द्वारा फांसी लगाकर आत्महत्या करने को लेकर पूरे दिन चर्चा होती रही। सभी इस बात को लेकर चर्चा करते न वीजर आए कि आखिरकार एक मां ने कैसे अपने जिगर के टुकड़ों को को एक साथ फांसी के फंदे पर लटकाया होगा। मृतका के घर के आसपास पूरे दिन सन्नाटा पसरा रहा। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में साधना द्वारा तीन बेटियों के साथ आत्महत्या करने की पुष्टि होने के बाद गांव सेहुद में तरह तरह की चर्चाएं होतीं रहीं। ग्रामीणों का कहना था कि पति पत्नी के बीच लड़ाई झगड़ा आम बात है। लेकिन ऐसा दुस्साहसिक कदम उठाना किसी महिला के लिए आसान कदम नहीं था।
ग्रामीण इस बात को लेकर चर्चा करते नजर आए कि आखिरकार साधना का उसके पति एवं ससुरालियों के बीच ऐसा क्या विवाद हुआ। जिससे साधना को अपनी तीन बेटियों के साथ आत्महत्या के लिए मजबूर होना पड़ा। क्योंकि यह बात गुरुवार को कुलदीप ने गांव के ही विनय कुमार को बताया था कि एक दिन पहले ही शाम को खाना नहीं खाया था। इससे यह बात तो साफ है कि कहीं न कहीं पति पत्नी के बीच सब कुछ ठीक नहीं था। ससुरालियों की कोई न कोई बात साधना के दिल को छू गई। जिससे बेटियों के साथ आत्महत्या के लिए मजबूर होना पड़ा। यह बात लगातार तीन बेटियां होने संबंधी भी हो सकती है। जिसका जिक्र साधना के भाई ब्रज बिहारी ने थाने में दर्ज कराई रिपोर्ट में भी किया है। दिबियापुर थाने के प्रभारी निरीक्षक रामसहाय पटेल का कहना है कि गुरुवार की शाम कुछ शराबियों ने घर में घुसकर तोड़फ़ोड़ की थी। लेकिन अब स्थिति सामान्य है।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *