4000 रुपए देकर इस रास्ते से इंडिया में घुसते थे बांग्लादेशी, फिर देते हैं इन बड़ी वारदातों को अंजाम

DCP संजीव सुमन ने बताया कि 10 अक्टूबर की रात्रि करीबन 1.45 बजे पुलिस ने कुछ संदिग्धों को देखा

यूपी की कैपिटल लखनऊ के चिनहट में बीती 10 तारीख को देर रात्रि एनकाउंटर किया। पुलिस ने तीन लोगों को अरेस्ट किया है। इनकी शिनाख्त 26 वर्षीय शेख रुबेल, 27 वर्षीय आलम और 23 वर्षीय रबीउल के रूप में हुई है। ये सभी बांग्लादेशी नागरिक हैं।

Money

मुठभेड़ के मौके पर कुछ साथी भाग निकलने में भी कामयाब रहे, जिनकी तलाश की जा रही है। तो वहीं पुलिस कमिश्नर ध्रुव कांत ठाकुर ने बताया कि ये गिरोह डकैती की घटना को अंजाम देने निकला था, इसी दौरान मल्हौर रेलवे स्टेशन के नज़दीक पुलिस पेट्रोल पार्टी के साथ एनकाउंटर हो गई।

DCP संजीव सुमन ने बताया कि 10 अक्टूबर की रात्रि करीबन 1.45 बजे पुलिस ने कुछ संदिग्धों को देखा। रुकने के लिए कहे जाने पर वे भागने लगे और फायरिंग शुरू कर दी। जवाबी कार्रवाही में दो अपराधी गोली लगने से जख्मी हो गए। एक को भागते वक्त पुलिस ने दबोच लिया, जबकि अन्य भाग निकले।

इनसे इंक्वायरी में बांग्लादेशियों के ऐसे ग्रुप का खुलासा हुआ है जो मुल्क के कई इलाकों में डकैती की घटनाओं का अंजाम देते हैं। रिपोर्ट के अनुसार ये नदी पार कर बांग्लादेश से हिंदुस्तान में दाखिल होते हैं। ये सभी लोग चार पांच हजार रुपए देकर वेस्ट बंगाल के 24 परगना के रास्ते इंडिया में एंट्री करते हैं। इसके बाद ट्रेन के माध्यम से देश के कई इलाकों में पहुँचते हैं।

आपको बता दें कि इंडिया में घुसने के बाद ये रेलवे पटरी के आसपास के क्षेत्रों में कबाड़ी, चाय वाला या फेरी वाला बनकर निशाना बनाने वाले घरों की रेकी करते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *