BASTI : इस बार जिला पंचायत अध्यक्ष पद पिछड़ा वर्ग के लिए हुआ आरक्षित

आरक्षण की घोषणा होते ही जिले का राजनीतिक तापमान गरमा गया है। शुक्रवार को शासन ने जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए आरक्षण जारी कर दिया गया।

ब्रह्मानंद शर्मा

आरक्षण की घोषणा होते ही जिले का राजनीतिक तापमान गरमा गया है। शुक्रवार को शासन ने जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए आरक्षण जारी कर दिया गया। बस्ती में जिला पंचायत अध्यक्ष पद इसके पूर्व सामान्य था और पूर्व कैबिनेट मंत्री राजकिशोर सिंह के पुत्र देवेंद्र प्रताप सिंह शानू अध्यक्ष की कुर्सी पर विराजमान थे। इससे पहले यह कुर्सी अनुसूचित जाति महिला के लिए आरक्षित था।पूर्व विधायक दूधराम की पत्नी लता देवी अध्यक्ष थी ।

District Panchayat President

इसके पूर्व यह सीट सामान्य वर्ग की महिला के लिए आरक्षित था। तब पूर्व कैबिनेट मंत्री राजकिशोर की सिंह माताजी अध्यक्ष की कुर्सी संभाले हुए थी। इसके पूर्व यह सीट पिछड़ा वर्ग के तब में सदर विधायक दयाराम चौधरी जिला पंचायत के अध्यक्ष रहे।

संभावित नामों पर चर्चा शुरू

लंबे समय के बाद पिछड़ा वर्ग को मिला मौका। इस तरह लंबे समय के बाद पिछड़ा वर्ग के लिए जिला पंचायत अध्यक्ष का पद आरक्षित हुआ है। आरक्षण की तस्वीर साफ होते ही सपा, बसपा, भाजपा, कांग्रेस ने जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए संभावित नामों पर चर्चा शुरू कर दी है। अपर मुख्य अधिकारी विकास मिश्र ने बताया कि यहां पिछड़ा वर्ग के प्रत्याशी ही अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ पाएंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *