बंगाल- BJP के सीटें जीतने को लेकर प्रशांत किशोर का दावा क्या होगा सच, जानें

पश्चिम बंगाल चुनाव नतीजों के आरंभिक रुझानों के अनुसार अभी तक BJP को 100 से भी कम सीटें मिलती दिख रही हैं।

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में ममता बनर्जी के राजनीतिक रणनीतिकार प्रशांत किशोर का दावा क्या सच साबित होगा। क्या BJP दो अंकों में सीटें ही जीत पायेगी। इस प्रश्न के उत्तर को लेकर BJP, टीएमसी दलों के अलावा आमजनों में भी बहस हो रही है।

दरअसल, चुनाव प्रचार के दौरान प्रशांत किशोर ने दावा किया था कि अगर BJP दो अंकों से अधिक सीटें जीत लेती है तो वे चुनावी रणनीति बनाने के काम छोड़ देंगे। पश्चिम बंगाल चुनाव नतीजों के आरंभिक रुझानों के अनुसार अभी तक BJP को 100 से भी कम सीटें मिलती दिख रही हैं।

इससे प्रशांत किशोर का दावा सत्य होता दिख रहा है। प्रशांत किशोर ने कहा था कि चुनाव से पहले किसको कितनी सीट मिलेगी, यह बताना बहुत कठिन है, किंतु BJP के प्रोपेगेंडा को काटने के लिए मुझे यह बात कहनी पड़ी है कि BJP डबल डिजिट क्रॉस नहीं करेगी।

इलेक्शन शुरू होने से लेकर मतदान तक केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने भी दावा किया था कि BJP विधानसभा चुनाव में 200 से अधिक सीटें जीतने वाली है। शाह के इस प्रचार से तृणमूल समर्थकों का आत्मबल कमजोर होता देखकर प्रशांत किशोर इसके जवाब में BJP के डबल डिजिट से अधिक सीटें नहीं जीतने का मनोवैज्ञानिक पत्ता फेंका था।

इलेक्शन की तैयारियों के दौरान ममता बनर्जी ने प्रशांत किशोर को जो राजनीतिक महत्व दिया था, उससे तृणमूल कांग्रेस में असन्तुष्टों के स्वर तीखे हुए थे। तृणमूल के बागियों ने BJP को इतना मजबूत कर दिया कि अब पश्चिम बंगाल का राजनीतिक परिदृश्य बदलने की कगार पर है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *