इस राज्य में भाजपा ने किया सूपड़ा साफ, सिर्फ 1 सीट जीतकर ममता क्यों हैं खुश?

कमल ने कुल 222 में से 217 सीटें जीतीं, जबकि उसके प्रत्याशी 112 पर निर्विरोध चुने गए

त्रिपुरा निकाय चुनाव में बीजेपी ने विपक्ष का सफाया कर दिया है। अगरतला नगर निगम समेत 14 नगरीय निकायों में हुए चुनाव में भाजपा ने टोटल 334 वार्डों में से 329 पर कब्जा जमाया। अगतला में कमल ने सभी 51 सीटों पर जीत हासिल की है।

bjp 1 win

टोटल 334 सीटों में से 222 सीटों पर 25 नवंबर को मतदान हुआ था, जिसमें 81.54 फीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। कमल ने कुल 222 में से 217 सीटें जीतीं, जबकि उसके प्रत्याशी 112 पर निर्विरोध चुने गए।

जहां भाजपा निकाय चुनावों के परिणामों से खुश है, वहीं तृणमूल कांग्रेस, जिसने महज एक सीट जीती है, कम खुश नहीं है। पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के बाद ‘मिशन दिल्ली’ के तहत ममता बनर्जी की पार्टी ने सबसे पहले त्रिपुरा में ही विस्तार की घोषणा की थी।

ममता की पार्टी को भले ही सिर्फ एक सीट मिली हो, मगर वोट शेयर के मामले में वह वाम दलों को पछाड़कर दूसरा स्थान हासिल कर चुकी है। त्रिपुरा नगर निकायों के कई वार्डों में माकपा को पछाड़कर मुख्य विपक्ष का दर्जा हासिल करने वाली टीएमसी ने अपने प्रदर्शन को असाधारण बताया। पार्टी इसे 2023 के विधानसभा इलेक्शन से पहले अपनी कामयाबी के रूप में देख रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close