यूपी में भाजपा कार्यकर्ता ने नड्डा को खून से लिखा लेटर, बोले- योगी को मुख्यमंत्री पद से हटाया गया तो कर लूंगा॰॰॰

पार्टी कार्यकर्ता सोनू ठाकुर ने योगी को पद से हटाने पर विधानसभा और प्रदेश बीजेपी कार्यालय के सामने आत्मदाह करने की धमकी दी है।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में बीजेपी संगठन, सरकार और मंत्रिमंडल में फेरबदल की कवायद भले ही स्थगित हो गई हो, लेकिन मतभेदों का लावा ठंडा नहीं हुआ है। अब खत-वो-किताबत का दौर शुरू हो गया है। गोंडा के एक पार्टी कार्यकर्ता ने बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा को खून से पत्र लिखकर योगी आदित्‍यनाथ को मुख्यमंत्री के पद पर बरकरार रखने की मांग की है। पार्टी कार्यकर्ता सोनू ठाकुर ने योगी को पद से हटाने पर विधानसभा और प्रदेश बीजेपी कार्यालय के सामने आत्मदाह करने की धमकी दी है।

cm yogi

गोंडा के बीजेपी कार्यकर्ता सोनू ठाकुर ने पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा को खून से पत्र लिखकर योगी आदित्‍यनाथ को मुख्यमंत्री के पद पर बनाये रखने की मांग की है। सोनू ने योगी को पद से हटाने पर विधानसभा और प्रदेश बीजेपी कार्यालय के सामने आत्मदाह करने की धमकी दी है। अब सोनू ठाकुर के खून से लिखे खत ने सूबे की सियासत को और सरगर्म कर दिया है। बीजेपी के ही कुछ नेता इसे एक सियासी चाल करार दे रहे हैं।

बीजेपी कार्यकर्ता ने पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा को लिखे पत्र में लिखा है कि मैं सोनू ठाकुर अपने खून से लेटर लिखकर आपको अवगत कराना चाहता हूं कि परम पूज्य मुख्यमंत्री योगी जी जनता के हित में लगातार 24 घंटे काम कर रहे हैं। यही नहीं वह कोरोना महामारी में अपनी जान की परवाह न करते हुए जनता के हित में प्रदेश के प्रत्येक जिले के गांव में दौरा करके जनता की जीवन की रक्षा कर रहे हैं।

सोनू ने आगे लिखा है कि पार्टी के अंदर आंतरिक रूप से प्रदेश स्तर के कुछ भाजपा नेता योगी जी को मुख्यमंत्री के पद से हटाना चाहते हैं। अतः आपसे निवेदन है कि मैं बीजेपी का एक बूथ स्तर का कार्यकर्ता हूं और अगर योगी जी को मुख्यमंत्री पद से हटाया जाता है तो मैं विधानसभा लखनऊ भाजपा कार्यालय के सामने आत्मदाह कर लूंगा। इसकी जिम्‍मेदारी यूपी के कुछ भाजपा नेताओं की होगी।

उल्लेखनीय है कि पिछले विधानसभा चुनाव में बीजेपी को मिले बहुमत के बाद सोनू ठाकुर योगी आदित्यनाथ को सीएम बनाने की मांग करते हुए टावर पर चढ़ गया था और पहली बार सुर्खियों में आया था। इसके कुछ दिनों बाद सोनू ठाकुर योगी चालीसा लिखकर और योगी की पूजा करके भी चर्चा में आया था। इसलिए कुछ बीजेपी नेता सोनू के इस कदम को भी सुर्खियां बटोरने का जरिया बता रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *