CAA: महिला प्रदर्शनकारियों से लखनऊ पुलिस ने कंबल सहित कई सामान छीने, लोगों में गुस्सा

देश के लगभग हर शहर में शाहीन बाग़ के तर्ज पर लोग प्रदर्शन के लिए सड़को पर उतर गये है, जिसके बाद इस प्रदर्शन में मानो आग सी फ़ैल गई है और लोग अपनी मांग पर अड़े हुए है. वहीँ अब ये आग उत्तर प्रदेश के लखनऊ भी पहुंच चुकी है. आपको बता दें कि अब शाहीन बाग़ के तर्ज पर प्रदर्शन होना शुरू हो गया हैं. लखनऊ के घंटाघर में आज भी नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ मुस्लिम महिलाओं का प्रदर्शन जारी है.


गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश पुलिस के द्वारा लखनऊ के घंटा घर में चल रहे प्रदर्शन के दौरान पुलिसिया कार्यवाई के वजह से अफरा तफरी का माहौल बन गया था. वहीँ ज्ञात हो कि रविवार सुबह पुलिस ने प्रदर्शनकारी महिलाओं के पास से खाने-पीने के सामान सहित कंबल भी जब्त कर लिया है. इस सब कार्यवाई के दौरान प्रदर्शनकारी महिलाओं के साथ पुलिस की जुबानी जंग भी चल रही है. प्रदर्शनकारी पुरुषों को पुलिस भगा रही है.

आपको बता दें कि अब तक शांतिपूर्ण तरीके से चल रहे प्रदर्शन में अब माहौल बिगड़ गया है. वहीँ बताया जा रहा है कि प्रदर्शनस्थल के चारों तरफ पुलिस गश्त कर रही है. इसके साथ ही घंटाघर में भारी संख्या में पुलिस बल तैनात है.वहीं शनिवार रात घंटाघर में भी भारी संख्या में लोगों ने विरोध प्रदर्शन किया. महिलाओं के हाथ में सीएए और एनआरसी के विरोध की तख्तियां थीं. प्रदर्शन में महिलाओं के अलावा छोटे छोटे बच्चे और बच्चियां भी शामिल थीं.

ज्ञात हो कि लोगो का आरोप है कि पुलिस अपने बल का प्रयोग कर लोगों को हटाना चाहती है. वहीं इस दौरान लखनऊ पुलिस ने प्रदर्शनकारियों से हटने की अपील की , जब प्रदर्शनकारी नहीं माने तो पुलिस वाले अचानक एक्शन में आ गए और वहां आंदोलन से जुड़े सामान हटाए जाने लगे, जिसका विरोध हुआ, लेकिन पुलिस नहीं रूकी.

बता दें कि प्रदर्शनकारी महिलाओं का आरोप है कि पुलिस ने उनके सामान जब्त कर लिए और टेंट-खाने का सामान नहीं पहुंचने दिया. महिलाओं का कहना है कि पुलिस आंदोलन को रोकने की कोशिश कर रही है.

सावरकर का विरोध करने वालों को लेकर शिवसेना ने किया बड़ा ऐलान, कहा- भेजा जाएं॰॰॰

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *