केक डिलीवरी बॉय ने 66 महिलाओं को ब्लैकमेल कर किया रेप, ऐसे बनाता था शिकार

पश्चिम बंगाल के हूगली जिला के चुंचड़ा थाने इलाके से पुलिस ने फ्लिपकार्ट के एक केक डिलीवरी बॉय को गिरफ्तार किया है. डिलीवरी बॉय पर 66 महिलाओं के साथ ब्लैकमेलिंग और बलात्कार करने का आरोप है.

हूगली। पश्चिम बंगाल के हूगली जिला के चुंचड़ा थाने इलाके से पुलिस ने फ्लिपकार्ट के एक केक डिलीवरी बॉय को गिरफ्तार किया है. डिलीवरी बॉय पर 66 महिलाओं के साथ ब्लैकमेलिंग और बलात्कार करने का आरोप है.

Facebook -Woman crime

आरोपी ट्राइकॉन पॉर्क इलाके का रहने वाला है. उसका नाम बिशाल वर्मा है. इस कांड में उसके एक दोस्त सुमन मंडल को भी गिरफ्तार किया गया है. यह घटना सामने आने के बाद इलाके के लोग डिलीवरी बॉय को सीरियल बलात्कारी कहने लगे हैं. उसका अपराध इतना गंभीर है कि महिलाएं कड़ी से कड़ी सजा की मांग करने लगीं.

इस तरह बनाता था शिकार

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, विशाल फीडबैक के नाम पर महिलाओं को वीडियो कॉल करता था. कॉल के दौरान वह महिलाओं की आपत्तिजनक फोटो और वीडियो कैप्चर कर ले लेता था. इसके बाद वह उन्हें ब्लैकमेल करता था. अपने साथ शारीरिक संबंध बनाने के लिए मजबूर करता था.

कोई रास्ता न देख महिलाओं ने उसके साथ संबंध बनाए, ताकि वो उनकी तस्वीरें या वीडियो बाहर लीक न कर दे. यह भी सामने आया है कि आरोपी विशाल महिलाओं को डरा-धमकाकर उनके गहने भी लूट लेता था. इस काम में उसका दोस्त सुमन मंडल भी साथ देता था.

चुंचुड़ा पुलिस ने सूचना के आधार पर 20 फरवरी की रात को एक घर में छापा मारा. घर में विशाल के साथ एक महिला मौजूद थी. महिला ने आरोप लगाया कि विशाल उसे धमकी देकर उसका रेप करने की कोशिश कर रहा था. तलाशी में पुलिस को बिशाल के पास से कई चिप और उनमें कई महिलाओं की आपत्तिजनक तस्वीरें और वीडियोज़ मिले. एक वीडियो में विशाल बंदूक की नोक पर एक महिला के साथ जबरदस्ती कर रहा था. इन सबके आधार पर पुलिस ने विशाल को गिरफ्तार कर लिया.

पुलिस थाने में पूछताछ पर विशाल ने अपने दोस्त सुमन मंडल का नाम भी बताया. पुलिस ने सुमन को भी गिरफ्तार कर लिया. वहीं विशाल की मां ने इस मामले में कहा कि उसे कड़ी से कड़ी सज़ा दी जानी चाहिए. चुचुड़ा थाने की पुलिस ने इस मामले में गिरफ्तार अभियुक्तों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए आईपीसी की धारा 376, 506, 509, 384, 34, 354B के अंतर्गत केस दर्ज करके जेल की सलाखों के पीछे भेज दिया है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *