कप्तान ने बताई केकेआर टीम की सबसे बड़ी ताकत, बोले- इस खिलाड़ी के आने गेंदबाजी और ज्यादा हुई मजबूत

पिछले सीजन के बीच में कप्तान बनाए गए ऑयन मॉर्गन इस बार एक कदम आगे बढ़ाने की उम्मीद में हैं और इसमें उनकी मदद करेगी टीम का मिडिल ऑर्डर, जिसे उन्होंने कोलकाता की सबसे अहम ताकत बताया है।

नई दिल्ली॥ लोगों ने IPL 2020 में काफी उतार-चढ़ाव देखा था। सीजन के मध्य में ही केकेआर की कप्तानी में बदलाव हुआ था और बिल्कुल अंतिम समय पर पूर्व चैंपियन प्ले ऑफ के लिए क्वालिफाई करने से चूक गई थी। पिछले सीजन के बीच में कप्तान बनाए गए ऑयन मॉर्गन इस बार एक कदम आगे बढ़ाने की उम्मीद में हैं और इसमें उनकी मदद करेगी टीम का मिडिल ऑर्डर, जिसे उन्होंने कोलकाता की सबसे अहम ताकत बताया है।

KKR lost

ऑयन के अलावा दिनेश कार्तिक, आंद्रेस रसल, नीतीश राणा जैसे विस्फोटक और अनुभवी बल्लेबाजों से भरी कोलकाता की टीम का प्रदर्शन बीते सीजन में बेहद औसत रहा था। इसकी वजह टीम की बैटिंग भी रही थी। खास तौर पर रसल की नाकामी ने कोलकाता को सबसे अधिक निराश किया था। इसके बावजूद फ्रेंचाइजी ने इस बार की नीलामी में कोई बड़ा बदलाव नहीं किया और लगभग इसी बल्लेबाजी के साथ नए सीन में उतरने जा रहे हैं।

हमारे विरूद्ध खेलकर नहीं आएगा टीमों को मजा

अपनी टीम की इस सीजन की तैयारियों के बारे में बात करते हुए कप्तान मॉर्गन ने एक वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि कोलकाता के पास बहुत विविधता है और कम ही टीमें उनके विरूद्ध खेलना पसंद करेंगी।

अपनी टीम की ताकत के बारे में बताते हुए मॉर्गन ने कहा- बीते वर्ष के कई सकारात्मक पहलुओं में से एक हमारे मध्यक्रम की विविधता थी और लचीलापन था कि हम कभी सुनील नरेन या कभी या कभी दिनेश कार्ति को प्रमोट कर सकते थे। मध्यक्रम में इतनी ताकत है कि अगर हम अच्छे से खेलते हैं, तो कई टीमों को हमारे विरूद्ध खेलने में मजा नहीं आएगा।

हरभजन के आने से स्पिन और मजबूत

इतना ही नहीं, मॉर्गन अपनी टीम के स्पिन विभाग से भी खुश हैं क्योंकि भज्जी के आने से उसे और मजबूती मिली है। मॉर्गन ने कहा कि चेन्नई की धीमी पिचों को ध्यान में रखते हुए इससे उनका स्पिन गेंदबाजी मजबूत होगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *