चीन इस जगह पर कर रहा एयरबेस पर कब्ज़ा! भारत की बढ़ी टेंशन, सुरक्षा के लिहाज़ महत्वपूर्ण

अमेरिका ने बगराम एयरबेस (Bagram Air Base) को भी पूरी तरह से खाली कर दिया था. हालांकि अब इस बेस पर एक बार फिर हलचल होती दिखाई दे रही है.

चीन दुनियाभर के देशों पर नज़र बनाए रखना चाहता है, ऐसे में वो हरसंभव कोशिश करता है. आपको बता दें कि अमेरिकी सेना (US Army) के अफगानिस्‍तान (Afghanistan) से हटने के बाद तालिबान (Taliban) ने अफगानिस्‍तान पर एक बार फिर पूरी तरह से कब्‍जा कर लिया है. अफगानिस्‍तान में 20 साल पहले तालिबान को खदेड़ने के इरादे के अमेरिकी सेना ने बगराम (Bagram Airport) में अपना सबसे बड़ा बेस तैयार किया था.

वहीँ जुलाई में अपने सैनिकों को वापस बुलाने के साथ अमेरिका ने बगराम एयरबेस (Bagram Air Base) को भी पूरी तरह से खाली कर दिया था. हालांकि अब इस बेस पर एक बार फिर हलचल होती दिखाई दे रही है. भले ही अभी तक इस बात की सटीक जानकारी नहीं मिल सकी है कि बगराम पर कब्‍जा कौन जमा रहा है लेकिन सूत्रों के हवाले से जो जानकारी मिली है उसके मुताबिक इसमें चीन का हाथ है.

चीन के एक प्रतिनिधिमंडल ने एयरबेस का गुपचुप दौरा किया

बता दें कि कुछ दिन पहले ही चीन के जासूसों ने यहां की रेकी करने देखा गया था. अगर ये बात सही साबित होती है तो यह भारत के लिए खतरनाक साबित हो सकता है. वहीँ अफगान मीडिया एजेंसियों के मुताबिक अमेरिका के सबसे बड़े सैन्‍य बेस रहे बगराम एयरपोर्ट पर एक बार फिर हलचल तेज हुई है और काफी दिनों के बाद यहां पर लाइटें जली हैं. अभी तक इस बात की जानकारी नहीं मिली है कि वहां पर कौन आया है. कुछ दिन पहली ही चीन के एक प्रतिनिधिमंडल ने एयरबेस का गुपचुप दौरा किया था.

खुफिया जानकारी के मुताबिक ये लोग कथित तौर पर अमेरिकी लोगों के खिलाफ साक्ष्‍य और आंकड़े इकट्ठा कर रहे थे. ऐसी खबरें भी सामने आई हैं कि तालिबान और पाकिस्‍तान की मदद से चीन यहां पर खुफिया केंद्र की तैयारी कर रहा है ताकि उनके शिंजियांग प्रांत में उइगर मुस्लिमों को दी जाने वाली किसी मदद पर कड़ी नजर रखी जा सके.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *