बॉर्डर तनाव के बीच चीनी सेना को मिला एक बड़ा झटका, इस जगह पर जा बैठे भारतीय जांबाज

भारतीय सैनिकों ने उत्तरी छोर पर वह रणनीतिक ऊंचाई हासिल कर ली जहां से चीन की हर पोस्ट और उसकी हरकतों की पल-पल जानकारी रखी जा सकती है।

नई दिल्ली, 10 सितम्बर । पूर्वी लद्दाख में ​​पैंगोंग झील के दक्षिणी इलाके में तनाव के बीच ड्रैगन को चकमा देकर भारतीय सैनिकों ने उत्तरी छोर पर वह रणनीतिक ऊंचाई हासिल कर ली जहां से चीन की हर पोस्ट और उसकी हरकतों की पल-पल जानकारी रखी जा सकती है।

china

मई में चीनियों ने भारत को धोखा देकर फिंगर-4 पर कब्जा किया था और वहां से हटने को तैयार नहीं हैं। पिछले हफ्ते भारत अपने सैनिकों की तैनाती में बदलाव करके रिजलाइन तक पहुंचा था लेकिन अब फिंगर एरिया में भारतीय सैनिकों की तैनाती इतनी ऊंचाई वाली पहाड़ी पर कर दी गई है जो फिंगर-4 से भी ऊंची है।

तनाव के बीच ही चुशूल में आज फिर दोनों देशों के ब्रिगेड कमांडर मिले और यह मीटिंग करीब चार घंटे चली। एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि हम बातचीत का रास्ता बंद नहीं करना चाहते लेकिन हालात के मुताबिक कुछ भी कदम उठाने में सक्षम हैं। एलएसी पर मौजूद तनाव में जरा भी कमी नहीं आई है।

फिंगर-4 में जहां चीनी सैनिक डटे हैं, अब भारतीय सैनिक उससे भी ऊंचाई पर तैनात हैं जहां से फिंगर-4 का पूरा इलाका साफ-साफ दिखाई देता है। यानी अब यहां से चीन की हर पोस्ट और उसकी हरकतों की पल-पल जानकारी रखी जा सकती है। अभी तक सबसे अधिक ऊंचाई पर बैठे चीनियों को रणनीतिक लाभ मिलता था जिसकी वजह से उन्हें भारत की हर गतिविधि के बारे में जानकारी रहती थी लेकिन अब ऐसा नहीं हो पायेगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *