उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत देवभूमि के लोगों को देने जा रहे हैं ‘हेलीकॉप्टर की सेवा’

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत कोरोना संक्रमण काल में भी विकास योजनाओं को गति देने में लगे हुए । सीएम रावत की योजना है कि उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव होने से पहले सभी विकास योजनाओं को पूरा कर लिया जाए । हालांकि अभी राज्य में विधानसभा चुनाव होने में लगभग डेढ़ वर्ष का समय बाकी है ।

अब उत्तराखंड की त्रिवेंद्र रावत सरकार ने एक और वादा निभाते हुए उड़ान योजना के अंतर्गत राजधानी देहरादून से मसूरी और हल्द्वानी से हरिद्वार के बीच हेलीकॉप्टर सेवा शुरू करने की तैयारी कर दी है । मुख्यमंत्री पिछले काफी समय से केंद्र सरकार से इन दोनों रूटों के लिए मंजूरी का इंतजार कर रहे थे । अब जाकर केंद्र सरकार ने इस प्रोजेक्ट को हरी झंडी दे दी है ।

इसके बाद अब जल्द ही दून से मसूरी और हल्द्वानी से हरिद्वार के बीच हेली सेवा शुरू हो सकेगी । यहां हम आपको बता दें कि राज्य में उड़ान योजना के तहत एक दर्जन शहरों के बीच हेली सेवाएं प्रस्तावित की गई है। प्रथम चरण में देहरादून, चिन्यालीसौड़, श्रीनगर और गौचर को हेली सेवा से जोड़ा जा चुका है। अब सरकार दूसरे शहरों में भी हेली सेवा संचालित करने की तैयारी कर रही है। इसमें मसूरी, हरिद्वार और हल्द्वानी शहर प्राथमिकता में शामिल हैं।

अक्टूबर से शुरू होंगी राज्य में हेलीकॉप्टर सेवा–

अगर सब कुछ सही रहा तो अगले माह अक्टूबर से इन दोनों रूटों पर हेलीकॉप्टर दौड़ने लगेंगे । देवभूमि के लोगों की काफी समय से मांग रही है कि इन मार्गों पर हेली सेवा शुरू की जाए, उसी को ध्यान में रखते हुए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने इस उड़ान योजना के तहत अमलीजामा पहनाया है ।

बता दें कि यह हेलीकॉप्टर सेवा काफी समय से प्रस्तावित थी लेकिन इसमें कुछ दिक्कतें आ रही थी लेकिन अब ठीक कर ली गई हैं । पर्यटकों के दबाव को देखते हुए, यह सेवा काफी लोकप्रिय हो सकती है। इसी तरह गढ़वाल और कुमाऊं मंडल को भी हेली सेवा से जोड़ने के लिए हरिद्वार और हल्द्वानी के बीच हेली सेवा की तैयारी की जा रही है।

यही नहीं राजधानी देहरादून से पिथौरागढ़ के लिए हवाई सेवा को भी दोबारा शुरू कराने के तेजी के साथ प्रयास चल रहे हैं । गौरतलब है कि इस मार्ग पर कुछ तकनीकी खराबी आने की वजह से इस सेवा को स्थगित कर दिया गया था । अब हेलीकॉप्टर इन मार्गों पर शुरू होने से राज्य के लोगों को आवागमन में समय की बचत होगी ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *