up में मिला कोरोना का सबसे खतरनाक वैरिएंट!

कोरोना महामारी को रोकने में योगी सरकार नये नये फैसले लेती नजर आ रही हैं, तो वही लोगो की लापरवाही की वजह से covid-19 का ख़तरा

कोरोना महामारी को रोकने में योगी सरकार नये नये फैसले लेती नजर आ रही हैं, तो वही लोगो की लापरवाही की वजह से covid-19 का ख़तरा फिर से मंडरा सकता हैं। दरअसल,आज देवरिया और गोरखपुर में डेल्टा प्लस स्ट्रेन के दो मामले पाए जाने के बाद अब संत कबीर नगर में एक मरीज कोविड-19 के कप्पा स्ट्रेन से पॉजिटिव पाया गया है। 66 वर्षीय मरीज की मौत हो गई है।

जीनोम अनुक्रमण अभ्यास के दौरान स्ट्रेन का पता चला था। उनका नमूना 13 जून को नियमित रूप से इक्ठ्ठा किया गया था और सीएसआईआर के इंस्टीट्यूट ऑफ जीनोमिक्स एंड इंटीग्रेटिव बायोलॉजी, नई दिल्ली को भेजा गया था, जिसने नमूने में कप्पा स्ट्रेन की पुष्टि की है।

मरीज की नहीं थी ट्रैवल हिस्ट्री

डेल्टा प्लस की तरह, कप्पा को भी चिंता का एक रूप घोषित किया गया है। बीआरडी मेडिकल कॉलेज में माइक्रोबायोलॉजी विभाग के प्रमुख अमरेश सिंह ने कहा कि मरीज ने 27 मई को कोविड का परीक्षण किया था और उसे 12 जून को मेडिकल कॉलेज लाया गया था। 13 जून को सैंपल लिया गया था। सिंह ने कहा कि14 जून को इलाज के दौरान मरीज की मौत हो गई। उसकी कोई ट्रैवल हिस्ट्री नहीं थी।

लगातार रूप बदल रहा है वायरस

स्वास्थ्य अधिकारियों ने कहा कि राज्य से जीनोम अनुक्रमण के लिए 2,000 से अधिक नमूने भेजे गए हैं। इस सप्ताह उत्तर प्रदेश में पहली बार डेल्टा प्लस स्ट्रेन के दो मामले दर्ज किए गए। अधिकारियों ने कहा कि चूंकि तीनों रोगियों में से किसी का भी यात्रा इतिहास नहीं था, इससे पता चलता है कि राज्य में वायरस उत्परिवर्तित हो रहा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *