Breaking News

COVID-19: जानिए यूपी में हर रोज कितने टेस्ट की है तैयारी

लखनऊ: प्रदेश में कोविड-19 की टेस्टिंग क्षमता 15 जून तक बढ़ाकर 15 हजार प्रतिदिन होगी। महीने के अंत तक टेस्टिंग क्षमता 20 हजार प्रतिदिन किए जाने का लक्ष्य तय किया गया है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने लाॅकडाउन व्यवस्था की समीक्षा बैठक के दौरान अफसरों को यह निर्देश दिए हैं। मौजूदा समय में कोविड-19 की टेस्टिंग क्षमता 10 हजार से ज्यादा है।

corona-lab

वर्तमान में यह है टेस्टिंग कैपिसिटी

वर्तमान में टेस्टिंग क्षमता 10 हजार से अधिक।
एल-1, एल-2 व एल-3 कोविड अस्पतालों में बेड की क्षमता एक लाख से अधिक
हर जिले में एल-1 और एल-2 कोविड अस्पताल उपलब्ध हैं।
एल-1 कोविड अस्पतालों में सामान्य बेड के साथ ही, आक्सीजन आपूर्ति की सुविधा से युक्त बेड।
एल-2 कोविड अस्पतालों में आक्सीजन युक्त बेड के साथ वेंटीलेटर की सुविधा।
मार्च के प्रथम सप्ताह में टेस्टिंग क्षमता मात्र 50 थी।

सीएम ने दिए यह निर्देश

एक जून से रेल सेवा शुरू। रेलवे स्टेशनों पर यात्रियों की स्क्रीनिंग की जाए।
रेल से आने वाले कामगारों को कोविड-19 से सतर्कता की जानकारी हो।
रेलवे बोर्ड को पत्र लिखकर कामगारों को हैण्डबिल उपलब्ध कराने के लिए कहा जाए।
जिसमें कोविड-19 के विषय में बरती जाने वाली सावधानी के बारे में बताया गया हो।
एक जून से खाद्यान्न वितरण का अगला चरण प्रारम्भ हो रहा है।
इसमें जीपीएस प्रणाली का प्रयोग किया जाए।
खाद्यान्न की सप्लाई के लिए नोडल अधिकारी की नियुक्ति की जाए।
प्रत्येक जरूरतमंद परिवार को खाद्यान्न उपलब्ध हो जाए।
प्रदेश में कोई भी भूखा नहीं रहना चाहिए।
जरूरतमंद परिवारों के राशन कार्ड तेजी से बनवाए जाएं।
राशन वितरण में घटतौली या किसी प्रकार की अव्यवस्था न होने पाए।
खाद्यान्न वितरण के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा पालन कराया जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com