लक्ष्मी जी की कृपा पाने के लिए न करें किसी खास दिन का इंतजार, कभी भी करें ये उपाय

नई दिल्ली: वास्तु के अनुसार हर चीज को रखने की एक सही दिशा और जगह होती है। अगर वास्तु के अनुसार उन चीजों को सही जगह पर नहीं रखा जाता है तो इसका खामियाजा घर के सदस्यों को भुगतना पड़ता है। कई बार लाख कोशिशों के बाद भी व्यक्ति को किसी काम में सफलता नहीं मिलती है। साथ ही घर में सुख, समृद्धि और सुख के द्वार नहीं खुलते। लेकिन वास्तु शास्त्र में कुछ ऐसे उपाय बताए गए हैं, जिन्हें करने से फल मिलने की संभावना काफी बढ़ जाती है।

अक्सर लोग लक्ष्मी जी के उपाय दिवाली या शुक्रवार को ही करते हैं। लेकिन इन वास्तु उपायों को सामान्य दिनों में भी आजमाया जा सकता है। वास्तु में परिवार पर लक्ष्मी जी की कृपा और घर में सुख-समृद्धि के कई उपाय बताए गए हैं। आइए जानते हैं क्या हैं ये उपाय।

लक्ष्मी जी के लिए वास्तु उपय

कुबेर देवता की मूर्ति लगाएं

वास्तु विशेषज्ञों का मानना ​​है कि सुख, समृद्धि और धन की प्राप्ति के लिए धन के देवता भगवान कुबेर को घर की उत्तर दिशा में रखा जा सकता है। लेकिन धन कुबेर की मूर्ति रखते समय इस बात का ध्यान रखें कि तिजोरी या धन रखने का स्थान भी इसी दिशा में हो।

श्री गणेश की मूर्ति स्थापित करें – माँ लक्ष्मी

घर में समृद्धि बनाए रखने के लिए पूर्व-उत्तर दिशा में देवी लक्ष्मी और श्री गणेश जी की मूर्तियों को रखा जा सकता है। इस मूर्ति के सामने नियमित रूप से सुबह-शाम घी का दीपक जलाएं। साथ ही श्री गणेश और मां लक्ष्मी की आरती भी करें।

चांदी के सिक्के कांच के बर्तन में रखें

घर में सुख-शांति बनाए रखने के लिए घर में कांच के बर्तन में चांदी के सिक्के रखें। वास्तु के अनुसार इसे बहुत शुभ माना जाता है। और ऐसा करने से परिवार पर मां लक्ष्मी की कृपा बनी रहती है.

नीला पिरामिड रखें

वास्तु के अनुसार घर में नीले रंग का पिरामिड जरूर रखें। ऐसा करने से धन का भंडार कभी खाली नहीं होता। लेकिन इसे उत्तर दिशा में रखना बेहतर होता है।

आंवले का पौधा- तुलसी का पौधा

वास्तु के अनुसार आंवला-तुलसी का पौधा भी शुभ माना जाता है। ऐसा करने से घर में सुख-समृद्धि बनी रहती है। साथ ही सफलता के रास्ते भी खुलते हैं।

अस्वीकरण: यहां दी गई जानकारी केवल अनुमानों और सूचनाओं पर आधारित है। यहां यह उल्लेख करना महत्वपूर्ण है कि ABPLive.com किसी भी प्रकार के सत्यापन, सूचना का समर्थन नहीं करता है। किसी भी जानकारी या धारणा को लागू करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से सलाह लें।