Earthquake: भूकंप ने फिर मचाई तबाही, 250 लोगों की गई जान, इस देश में भी महसूस किये गए झटके

बुधवार को अफगानिस्तान की धरती भूकंप के झटकों से हिल गई जिससे कम से कम 250 लोगों की मौत हुई है। हालांकि अभी ये आंकड़ा और भी बढ़ सकता है।

काबुल। बुधवार को अफगानिस्तान की धरती भूकंप के झटकों से हिल गई जिससे कम से कम 250 लोगों की मौत हुई है। हालांकि अभी ये आंकड़ा और भी बढ़ सकता है। वहीं लगभग 150 लोगों के घायल होने की भी खबर है। यूएस जियोलॉजिकल सर्वे के अनुसार भूकंप का केंद्र अफगानिस्तान के खोस्त शहर से करीब 44 किलोमीटर दूर था और ये 51 किलोमीटर की गहराई में था। यहां आये भूकंप की तीव्रता इतनी ज्यादा थी कि पड़ोसी देश पाकिस्तान के लाहौर, मुल्तान, क्वेटा में भी लोगों ने झटके महसूस किये। वहीं भारत में भी झटके महसूस किए जाने की खबर आ रही है।

Earthquake afganistan

पाकिस्तान में भी महसूस किये गए झटके

बताया जा रहा है कि इससे पहले मंगलवार को देर रात पाकिस्तान में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। यहां रात दो बजकर 24 मिनट पर 6.1 तीव्रता का भूकंप आया था। हालांकि राहत की बात ये है कि यहां आए भूकंप में किसी भी तरह के जान-माल का नुकसान नहीं हुआ था। इसके अलावा देर रात मलेशिया के लोगों ने भी भूकंप के झटके महसूस किए। यहां भूकंप की तीव्रता 5.1 रही।

भूकंप आने की वजह

एक्सपर्ट्स बताते हैं कि भूकंप के आने का मुख्य कारण धरती के अंदर प्लेटों का टकरना है। दरअसल धरती के अंदर सात प्लेट्स होती हैं जो लगातार चक्कर कटती रहती हैं। ऐसे में जब ये प्लेटें किसी जगह पर आपस में टकरा जाती हैं, तो वहां फॉल्ट लाइन जोन बन जाता है जिससे सतह के कोने मुड़ जाते हैं और वहां दबाव बनता है जसकी वजह से प्लेट्स टूटने लगती हैं। इन प्लेट्स के टूटने के कारण अंदर की एनर्जी बाहर आने का रास्ता तलाशती है जिससे धरती हिलती है। इसे ही हम भूकंप कहते हैं।