अमेरिका में चुनावी सरगर्मियां तेज, कमला हैरिस ने कहा चुनाव में फिर हो सकता है रूस का दखल

अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव की राजनीतिक सरगर्मिया तेज हो गई है। और जैसे-जैसे चुनाव नजदीक आ रहा है।  वैसे ही वहां चुनाव प्रचार में भी तेजी आ रही है।

नई दिल्ली: अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव की राजनीतिक सरगर्मिया तेज हो गई है। और जैसे-जैसे चुनाव नजदीक आ रहा है।  वैसे ही वहां चुनाव प्रचार में भी तेजी आ रही है। इसी बीच डेमोक्रेटिक पार्टी की ओर से उपराष्ट्रपति पद की उम्मीदवार कमला हैरिस ने कहा कि इस बार भी राष्ट्रपति चुनाव में रूस का भी हस्तक्षेप हो सकता है। और उन्होंने यह कहा कि इससे उनकी पार्टी को नुकसान हो सकता है।

न्यूज एजेंसी सीएनएन को दिए एक इंटरव्यू में कमला हैरिस कहा कि मेरी स्पष्ट सलाह है। कि रूस ने 2016 में अमेरिका के राष्ट्रपति चुनाव में दखल दिया था। मैं सीनेट की खुफिया मामलों की कमेटी में रह चुकी हूं। उसमे जो हुआ था उस बारे में हम विस्तृत रिपोर्ट भी प्रकाशित कर चुके हैं। कमला हैरिस ने अपनी बात में आगे कहा कि मुझे लगता है कि 2020 के चुनाव में भी विदेशी दखल होगा। और इसमें रूस की अग्रणी भूमिका होगी। वहीं यह पूछे जाने पर कि क्या इसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा। तो  उन्होंने जवाब दिया कि सैद्धांतिक रूप से कहें तो निश्चित तौर पर नुकसान होगा। पको बता दे भारतवंशी कमला हैरिस कैलिफोर्निया की सीनेटर हैं। डेमोक्रेटिक पार्टी ने उन्हें उपराष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाया है। वे अपने चुनाव प्रचार में लगातार राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पर हमलावर हैं। अमेरिका में तीन नवंबर को राष्ट्रपति चुनाव होगा। जानकारी के मताबिक डेमोक्रेटिक पार्टी की तरफ से जो बाइडेन राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार हैं। रिपब्लिकन पार्टी की ओर से राष्ट्रपति पद के लिए डोनाल्ड ट्रंप और उपराष्ट्रपति पद के लिए माइक पेंस उम्मीदवार होंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *