श्रीलंका के पूर्वी तट के नजदीक एक तेल टैंकर में लगी आग, 79 घंटों के बाद आग पर पाया काबू, जहाज कुवैत से आ रहा था भारत

श्रीलंका से बड़ी खबर सामने आई है। जहां पूर्वी तटीय क्षेत्र के नजदीक एक तेल टैंकर में लग गई। हलाकिं आग को बुझा लिया गया है। वहीं इस घटना के तकरीबन 79 घंटों के बाद आग बुझाने में सफलता हाथ लगी।

नई दिल्ली: श्रीलंका से बड़ी खबर सामने आई है। जहां पूर्वी तटीय क्षेत्र के नजदीक एक तेल टैंकर में लग गई। हलाकिं आग को बुझा लिया गया है। वहीं इस घटना के तकरीबन 79 घंटों के बाद आग बुझाने में सफलता हाथ लगी। आपको बता दे नौसेना के साथ ही भारतीय तटरक्षक बल भी इस काम में जुटा हुआ था। और एमटी न्यू डायमंड नाम का यह टैंकर पनामा में रजिस्टर है। इसमें गुरुवार को आग लगी थी। बता दे जहाज कुवैत से 270,000 मीट्रिक टन कच्चा तेल भारत ला रहा था। श्रीलंकाई नौसेना के मुताबिक शुक्रवार को पनामा में रजिस्टर टैंकर एमटी न्यू डायमंड के इंजन रूम में बॉयलर विस्फोट में एक फिलिपिनो नाविक की मौत भी हो गई। 

भारतीय नौसेना ने की मदद

दरअसल भारतीय जहाजों ने अंपारा के पूर्वी जिले में संगमनकंडा के तट पर टैंकर पर आग की लपटों को बुझाने के लिए लंका की नौसेना की मदद की। नौसेना ने अपने एक बयान में कहा, “संकट की सूचना मिलने के लगभग 79 घंटे बाद, श्रीलंका नौसेना और अन्य पक्ष रविवार दोपहर लगभग 3.00 बजे आग पर काबू पा लिया गया। ” भारतीय तट रक्षक बल के पांच जहाज और भारतीय नौसेना का एक जहाज भी आग को बुझाने में जुटे थे। नौसेना ने कहा कि श्रीलंकाई वायु सेना ने ‘ड्राई केमिकल पाउडर’ के जरिए आग पर काबू पाने का प्रयास किया, जिसमें सफलता मिली। गौरतलब है नौसेना ने चेतावनी दी है। कि आग अब पूरी तरह से बुझ गई है। मगर जहाज के अंदर उच्च तापमान और पर्यावरणीय प्रभावों के कारण आग फिर लगने की आशंका जाताई जा रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *