बॉर्डर पर तनाव के बीच पहली बार आमने-सामने होंगे भारत और चीन के विदेश मंत्री

नई दिल्ली, 03 सितम्बर, यूपीकेएनएन। भारत-चीन के बीच सीमा विवाद को लेकर तनाव के बीच बड़ी खबर आ रही है। विदेश मंत्री एस जयशंकर मास्को (रूस ) में 10 सितम्बर को आयोजित शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) के विदेश मंत्रियों की बैठक में भाग लेंगे।

bharat china

भारत और चीन के बीच पूर्वी लद्दाख में सैनिक तनाव के दौर में यह पहला मौका होगा की एस जयशंकर और चीन के विदेश मंत्री वांग यी एक मेज पर होंगे। एससीओ की इस बैठक की अध्यक्षता रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव करेंगे। एससीओ के सदस्य के रूप में पाकिस्तान के विदेश मंत्री के भी इसमें भाग लेने की संभावना है।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने विदेश मंत्री की मास्को यात्रा की पुष्टि करते हुए गुरुवार को कहा कि एस जयशंकर इस दौरान वांग यी से वार्ता करेंगे या नहीं, यह अभी तय नहीं हुआ है।

उल्लेखनीय है कि जयशंकर और वांग यी के बीच गत जून महीने में वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए बातचीत हुई थी। दोनों नेताओं के आमने-सामने होने का यह पहला मौका है। वहीं इस बीच रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह एससीओ के रक्षा मंत्रियों की बैठक में भाग लेने के लिए मास्को में हैं। प्रवक्ता ने कहा कि फिलहाल रक्षा मंत्री का अपने चीनी समकक्ष से वार्ता करने का कोई कार्यक्रम नहीं है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close