दोस्ती दुनिया का सबसे खूबसूरत एहसास है, मित्र ही सुख-दुख का सच्चा साथी है

शंभू नाथ गौतम, वरिष्ठ पत्रकार
ये.. दोस्ती हम नहीं तोड़ेंगे, तोड़ेंगे दम मगर तेरा साथ ना छोडेंगे, तेरे जैसा यार कहां…बने चाहे दुश्मन जमाना हमारा सलामत रहे दोस्ताना हमारा… ऐसे ही फिल्म दोस्ती में दो दोस्तों की दोस्ती को आज भी लोग नहीं भूले हैं । ‘दिन आते हैं दिन जाते हैं, कुछ लम्हे आपके बिन गुजर नहीं पाते हैं, तमाम लम्हों को समेट कर देखूं तो आप जैसे दोस्त बहुत याद आते हैं’ । दोस्ती दुनिया का सबसे खूबसूरत अहसास है। दोस्त ही दुनिया का सबसे खूबसूरत तोहफा है जो हमारी जिंदगी को खुशनुमा बनाएं रखने के साथ ही हमारे दुख और दर्द का साथी भी होते है। जी हां आज बात होगी दोस्ती, मित्रता और फ्रेंडशिप की । 2 अगस्त यानी रविवार को हमारे देश में फ्रेंडशिप डे यानी मित्रता दिवस के लिए दोस्तों ने अपनी मित्रता को और मजबूत करने के लिए खास तैयारी कर रखी है।

friendship day

भारत में इस साल 2 अगस्त को फेंड्रशिप डे मनाया जाएगा। गौरतलब है कि भारत में हर साल अगस्त के पहले रविवार को फेंड्रशिप डे मनाया जाता है। आपको बता दें 30 जुलाई, गुरुवार को इंटरनेशनल फ्रेंडशिप डे मनाया गया था। यह खास दिन दोस्तों को समर्पित होता है। कहते हैं एक सच्चा दोस्त हजारों दोस्त के बराबर होता है।

happy friendship day

सच्चा मित्र वही है जो सुख दुख में काम आए । मित्र वह होता है जिसे हम अपनी जिंदगी में खुद चुनते हैं । मित्र से सभी प्रकार की बातें कर लेते हैं जो वह भाई से नहीं कर सकते हैं । बता दें कि दोस्ती और मित्रता पर बॉलीवुड में कई फिल्में भी बनी है ।

हरेक की जिंदगी में एक मित्र जरूर होता है–
हर एक इंसान की जिंदगी में मित्र जरूर होता है । मित्रता के सही मायने यही है कि इसमें भेदभाव और छोटे बड़े का कोई स्थान नहीं होता है । यही नहीं हम कई फैसले दोस्तों के साथ मिलकर भी जीवन में करते हैं । या हम आपको बता दें कि आज भी भगवान कृष्ण और सुदामा की दोस्ती प्रासंगिक बनी हुई है । यही नहीं इस बार कोरोना महामारी को लेकर दोस्ती की अहमियत और भी बढ़ गई है । फ्रेंडशिप डे पर दोस्तों को गिफ्ट कार्ड्स और बैंड देने की भी परंपरा रही है । जीवन में दोस्त बहुत महत्वपूर्ण होते हैं।

हम अपनी बातों को दोस्तों के साथ शेयर करते हैं। एक सच्चा दोस्त जीवन की हर परिस्थिति में साथ निभाता है। फ्रेंडशिप डे को लेकर बच्चे से लेकर बड़े इस दिन का बेसब्री से इंतजार करते हैं ताकि अपने दोस्तों को उनकी अहमियत बता सकें। मित्रता दिवस का ये मौका हर इंसान के लिए खास होता है। कहते हैं कि दोस्ती का रिश्ता ही एक ऐसा रिश्ता होता है जिसे लोग खुद से बनाते हैं। खून का तो नहीं पर दोस्तों के दिल एक-दूसरे से जुड़े होते हैं। दुनिया के कई देशों में अलग-अलग दिन फ्रेंडशिप डे मनाया जाता है।

अमेरिका से हुई थी फ्रेंडशिप डे की शुरुआत—
पूरे विश्व में फ्रेंडशिप डे मनाने की शुरुआत 1935 में अमेरिका से हुई थी। अमेरिकी सरकार ने एक व्यक्ति को मार दिया था, जिसकी याद और गम में एक दोस्त ने सुसाइड कर लिया था। तभी से उस दिन को सरकार ने फ्रेंडशिप डे के रूप में मनाने का निर्णय लिया था। पूरी दुनिया में अंतर्राष्ट्रीय फ्रेंडशिप डे हर साल 30 जुलाई को मनाया जाता है। पूरे विश्व में दोस्ती और दोस्तों के महत्व को चिह्नित करने के लिए ये दिन मनाया जाता है। इस दिन को फ्रेडशिप डे के रूप में भी जाना जाता है। इस दिन को पहली बार 1958 में मनाया गया था।

27 अप्रैल 2011 को संयुक्त राष्ट्र संघ की आम सभा ने 30 जुलाई को आधिकारिक तौर पर इस दिन को इंटरनेशनल फ्रेंडशिप डे घोषित किया था। हालांकि, कई देश इस दिन को संयुक्त राष्ट्र द्वारा निर्धारित तारीख से पहले या फिर बाद में मनाते हैं। भारत में, फ्रेंडशिप डे हर अगस्त के पहले रविवार को मनाया जाता है। यह दिन हर साल दोस्तों के साथ उपहारों के आदान-प्रदान और एक दूसरे के साथ आउटिंग की योजना के साथ मनाया जाता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *