कुत्ते की मौत से दुखी छात्रा ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखी ये बात

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, छात्रा को अपने कुत्ते से बहुत प्यार था और हाल में उसकी मौत के बाद से वह काफी दुखी थी। जिसके चलते युवती ने आत्महत्या करने जैसे बड़ा कदम उठाया लिया।

रायपुर। छत्तीसगढ़ में एम कॉम की पढ़ाई कर रही एक 23 वर्षीय छात्रा ने कुत्ते की मौत से दुखी होकर आत्महत्या कर ली। सुसाइड से पहले छात्रा ने एक सुसाइड नोट भी छोड़ा है। घटना रायपुर के गोरखा गांव की है।

Unhappy with the death of the dog commits suicide

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, छात्रा को अपने कुत्ते से बहुत प्यार था और हाल में उसकी मौत के बाद से वह काफी दुखी थी। जिसके चलते युवती ने आत्महत्या करने जैसे बड़ा कदम उठाया लिया। आत्महत्या के बाद युवती का अंतिम संस्कार गांव के बाहर किया गया जबकि कुत्ते को पास के ही एक खेत में दफनाया गया।

कुत्ते से था काफी गहरा लगाव 

सब इंस्पेक्टर दीपक भारद्वाज के अनुसार, 17 नवंबर की रात को करीब नौ बजे 5 वर्षीय कुत्ते की मौत हो गई। वह काफी लम्बे समय से बीमार था। इसके बाद से ही परिवार काफी दुखी था। रात एक बजे लड़की अपनी बहन के साथ सोने चली गई, लेकिन सुबह जब घरवालों ने देखा तो उसने पहले मंजिल पर आत्महत्या कर ली थी।

 सुसाइड नोट में लिखा, बाबू के साथ दफनाना 

लड़की कुत्ते को प्यार से बाबू कहकर बुलाती थी। लाश के साथ मिले सुसाइड नोट में युवती ने अपने माता-पिता को आखिरी इच्छा बताते हुए लिखा, ‘मेरी अंतिम इच्छा है कि मुझे जलाया न जाए और मेरे बाबू के साथ मुझे दफनाया जाए। मम्मी-पापा अपना ख्याल रखना।’

लड़की की मौत के बाद जहां घर वाले काफी दुखी और परेशान हैं। वहीं गांव में काफी तनाव है। लड़की एम कॉम की पढ़ाई कर रही थी और खाली समय में गांव के बच्चों को भी पढ़ाया करती थी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *