कोरोना वैक्सीन पर रूस से आई बड़ी खुशखबरी, जानें कब होगी, आम लोगों के लिए उपलब्ध

दुनियाभर में जब कोरोना वायरस लगातार बढ़ रहा है। ऐसे समय में रूस से एक अच्छी खबर सामने आई है। रूस के एक शीर्ष अधिकारी ने कहा है

रूस। दुनियाभर में जब कोरोना वायरस लगातार बढ़ रहा है। ऐसे समय में रूस से एक अच्छी खबर सामने आई है। रूस के एक शीर्ष अधिकारी ने कहा है कि अगले हफ्ते से कोरोना वायरस की वैक्सीन स्पूतनिक वी को आम नागरिकों के लिए जारी कर दिया जाएगा।


आपको बता दें कि इस वैक्सीन को रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने 11 अगस्त को लॉन्च किया था। इस वैक्सीन को मॉस्‍को के गामलेया रिसर्च इंस्टिट्यूट ने रूसी रक्षा मंत्रालय के साथ मिलकर एडेनोवायरस को बेस बनाकर तैयार किया है।
रूसी न्यूज एजेंसी TASS ने रशियन एकेडमी ऑफ साइंसेस में डेप्युटी डायरेक्टर डेनिस लोगुनोव के हवाले से कहा कि स्पूतनिक वी वैक्सीन को रूस के स्वास्थ्य मंत्रालय की अनुमति के बाद व्यापक उपयोग के लिए जारी किया जाएगा। स्वास्थ्य मंत्रालय इस वैक्सीन का टेस्ट कुछ ही दिनों में शुरू करने जा रहा है और हम कुछ ही दिनों में इसकी अनुमति हासिल कर लेगें।

इस वैक्सीन का नाम रूस की पहली सैटेलाइट स्पूतनिक से मिला है। जिसे रूस ने 1957 में रूसी अंतरिक्ष एजेंसी ने लॉन्च किया था। उस समय भी रूस और अमेरिका के बीच स्पेस रेस चरम पर थी। कोरोना वायरस वैक्सीन के विकास को लेकर अमेरिका और रूस के बीच प्रतिद्वंदिता चल रही थी। रूस के वेल्थ फंड के मुखिया किरिल दिमित्रीव ने वैक्सीन के विकास की प्रक्रिया को ‘स्पेस रेस’ जैसा बताया था।
रूस की यह वैक्सीन सामान्य सर्दी जुखाम पैदा करने वाले adenovirus पर आधारित है। इस वैक्सीन को आर्टिफिशल तरीके से बनाया गया है। यह कोरोना वायरस SARS-CoV-2 में पाए जाने वाले स्ट्रक्चरल प्रोटीन की नकल करती है जिससे शरीर में ठीक वैसा ही इम्यून रिस्पॉन्स पैदा होता है जो कोरोना वायरस इन्फेक्शन से पैदा होता है। 38 लोगों पर की गई स्टडी में यह वैक्सीन सुरक्षित पाई गई है। सभी वॉलंटिअर्स में वायरस के खिलाफ इम्यूनिटी भी पाई गई।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *