श्री दत्तात्रेय धाम बेलुआरघाट ,रुद्रपुर में अतिथि गृह का लोकार्पण,मुख्य अतिथि ने नारियल फोड़कर किया शुभारम्भ

देवारण्य क्षेत्र अत्यंत जागृत, देव के नगरी में मठ, मन्दिर लोगों के आस्था का केंद्र रहे। यहां जैन, बौद्ध सब के मठ मन्दिर स्थापित हैं

देवरिया,15 अक्टूबर यूूपी किरण। देवारण्य क्षेत्र अत्यंत जागृत, देव के नगरी में मठ, मन्दिर लोगों के आस्था का केंद्र रहे। यहां जैन, बौद्ध सब के मठ मन्दिर स्थापित हैं । उक्त बातें श्री दत्तात्रेय धाम बेलुआरघाट ,रुद्रपुर अतिथि गृह का लोकार्पण करते हुए अखिल भारतीय इतिहास संकलन योजना के संगठन मंत्री डॉ .बाल मुकुंद ने कहीं ।
 उन्होंने कहा कि मठ ,मन्दिर सामाजिक चेतना का केंद्र बनें, यहाँ से प्रेरणा लेकर ही हम सब धर्माचरण की ओर उन्मुख होंगे। धर्माचरण से ही हम सब भारत वर्ष को परम् वैभव पर ले जा सकते हैं, जब तक धर्म जीवित रहेगा, तब तक यह देश जीवित रहेगा। कहा कि यह क्षेत्र देवारण्य हैं ,देश के कोने कोने में अनेक दुर्गम स्थलों पर सिद्ध सन्त महंत इसी देवारण्य क्षेत्र के हैं।
जूना अखाड़े के साढ़े पांच लाख से अधिक साधु समाज के उत्थान का संकल्प लेकर भारत माता को परम् बैभव की ओर ले जाने के लिए लगे हैं। उन्होंने कहा कि यह क्षेत्र संघर्ष में भी आगे रहा है। देवरहवा बाबा से बाबा राघव दास तक का नाम सभी जानते हैं । यह क्षेत्र कृषि में भी बेहतर परिणाम सामने लाता है। श्री दत्तात्रेय धाम के स्वामी जी का संकल्प अवश्य पूरा होगा जिस हेतु सबके सहयोग की जरूरत है ।
 कार्यक्रम का शुभारंभ मंगलाचरण के बीच मुख्य अतिथि डॉ . बालमुकुंद ने नारियल फोड़, कर शुभ कलश के साथ अतिथि कक्ष में प्रवेश किया। इस दौरान नन्द गिरी, पं. बद्री नारायण त्रिपाठी, नन्हे पण्डित ,स्वामी परमानन्द गिरी , शांति स्वरूप दुबे, दिनेश तिवारी, मदन शाही, छट्ठे लाल निगम, नित्यानंद पांडेय, कुँअर अरुण सिंह, अमित, सन्तोष बबलू, छोटू, शिवेंद्र, मंटू, खुशी, खुशबू मौजूद रहीं । कार्यक्रम का संचालन प्रधानाचार्य व सभासद वीरेंद्र सिंह ने किया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *