स्वास्थ्य विभाग का बड़ा कदम, जनपद में बढ़ाई कोरोना टेस्सिंग की रफ्तार

जनपद में कान्टेक्ट ट्रेसिंग और टेस्टिंग ने रफ्तार पकड़ ली है। अगस्त माह के मुकाबले   सितंबर माह  के दौरान जनपद में 125 फीसदी टेस्ट हुए हैं

 गाजियाबाद, 03 अक्टूबर यूपी किरण। जनपद में कान्टेक्ट ट्रेसिंग और टेस्टिंग ने रफ्तार पकड़ ली है। अगस्त माह के मुकाबले   सितंबर माह  के दौरान जनपद में 125 फीसदी टेस्ट हुए हैं। अब  रोजाना लिए जा रहे सेंपलों  का आंकड़ा 6000 को पार कर गया है। इसके साथ ट्रेसिंग के  मामले  में भी जनपद में काफी अच्छी स्थिति में है।
   
अब स्वास्थ्य विभाग कॉटेक्ट ट्रेसिंग में लगने वाले  समय को कम करने के प्रयास में लगा है। जिला अधिकारी डा. अजय शंकर पांडेय ने इस संबंध में स्वास्थ्य विभाग को निर्देश जारी किए हैं। डीएम ने कहा ह‌ै कि पॉजीटिव आने वालों  से पिछले 14 दिनों में जो भी लोग मिले हों, उन सबकी टेस्टिंग 72 घंटे में हो जानी चाहिए। पिछले दिनों डीएम ने स्वास्थ्य विभाग को रोजाना छह हजार सेंपल  लेने का लक्ष्य दिया था जो स्वास्थ्य विभाग ने हासिल कर लिया है।  स्वास्थ्य विभाग से मिले आंकड़ों के मुताबिक सितम्बर  में कुल मिलाकर 1,16, 842 टेस्ट किए  गए  हैं, जबकि अगस्त माह के दौरान यह आंकड़ा 92, 384 था।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी  डा. एनके  गुप्ता ने बताया कि सितम्बर माह में ही रोजाना 6000 सैम्पल  लेने का आंकड़ा हासिल कर लिया गया था। उन्होंने बताया कि 29  सितंबर को  6,025  और 30 सितंबर को जनपद में कुल 6,014 सैम्पल  लिए गए। इनमें  एंटीजन किट  से की गई  जांचें  भी शामिल हैं। उन्होंने बताया कि  शासन की गाइड लाइन के मुताबिक जनपद में करीब दो-तिहाई टेस्ट एंटीजन किट से किए जा रहे हैं। जनपद में 26 जून से शुरू हुई एंटीजन जांच से 30 सितंबर तक 59 फीसदी से अधिक जांचें हुई हैं।
सीएमओ ने बताया कि कोविड का उपचार कर रहे दस निजी अस्पतालों को भी स्वास्थ्य विभाग की ओर से एंटीजन किट उपलब्ध कराई जा रही हैं, इसीलिए निजी अस्पतालों में एंटीजन किट से मुफ्त जांच की जा रही हैं।
अब मोबाइल पर मिलेगी कोरोना की जांच रिपोर्ट 
प्रदेश सरकार की ओर से कोरोना जांच की ‌रिपोर्ट देखने के लिए एक लिंक जारी किया गया है। कोविड जांच के लिए सैम्पल  देने की तारीख और उस समय रजिस्टर कराया गया मोबाइल नंबर डालकर रिपोर्ट देखी जा सकती है। सीएमओ डा. एनके  गुप्ता ने बताया कि https://labreports.upcovid19tracks.in/ लिंक पर क्लिक करके रिपोर्ट घर बैठे देखी  जा सकती है। 16 सितम्बर के बाद जिन लोगों ने सेंपल  दिए हैं, उन सबकी जानकारी इस लिंक पर उपलब्ध होगी।
 टेस्ट करवाने वाले व्यक्ति को दिए गए लिंक पर क्लिक करके सेंपल कलेक्शन की तारीख व मोबाइल नंबर की एन्ट्री करनी होगी। वन टाइम पासवर्ड  (ओटीपी) सैंपल के साथ दर्ज किए गए मोबाइल नंबर पर ही आएगा। यह ओटीपी डालते ही  संबंधित व्यक्ति की रिपोर्ट स्क्रीन पर आ जाएगी। इस रिपोर्ट को आसानी से सेव या प्रिंट किया जा सकता है। इस रिपोर्ट पर किसी  के हस्ताक्षर  या मुहर  की जरूरत नहीं पड़ेगी।

 

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *