इस देश में कैसे हुई 62,585 जानवरों की मौत, बन गए कुछ ऐसे हालात

लाजर ने कहा कि मारे गए 62,585 जानवरों में से 35,746 मवेशी, 15,136 भेड़, 10,033 बकरियां और 1,670 गधे थे

दार एस सलाम, 15 जनवरी | तंजानिया के उत्तरी जिले सिमंजीरो में लंबे समय तक सूखे से कम से कम 62,585 जानवरों की मौत हो गई है। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी कि देश में लगातार जानवरों की मौत का मामला सामने आ रहा है.

आपको बता दें कि एक समाचार एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार, सिमंजीरो जिला परिषद के उपाध्यक्ष सेंडेउ लाजर ने जिले में पार्षदों की एक बैठक में कहा कि जिले में सूखे की स्थिति चिंताजनक है। वहीँ आपको बता दें की लाजर ने कहा कि मारे गए 62,585 जानवरों में से 35,746 मवेशी, 15,136 भेड़, 10,033 बकरियां और 1,670 गधे थे।

लाजर ने कहा कि पशुधन अधिकारी जिले के सभी गांवों में सूखे से मारे गए जानवरों की संख्या का आकलन कर रहे हैं। “लंबे समय तक सूखा पशुपालकों को चरने के लिए पानी और घास की सापेक्ष आपूर्ति के साथ कुछ क्षेत्रों में शरण लेने के लिए मजबूर कर रहा है,”। एक सांसद क्रिस्टोफर ओले सेंडेका ने कहा कि सूखे ने कुछ पशुपालकों को पड़ोसी देशों में अपने जानवरों को चराने के लिए मजबूर कर दिया है।

तंजानिया में, देश के उत्तरी और मध्य भाग में सूखे की स्थिति अधिक बार देखी जाती है। सूखा तंजानिया के अर्ध-शुष्क क्षेत्रों में पानी की उपलब्धता, खाद्य सुरक्षा और स्थानीय आजीविका के लिए सबसे गंभीर खतरों में से एक है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close