बहस में मंत्री कौशिक नहीं आए तो सड़क पर ही Manish Sisodia त्रिवेंद्र सरकार की लगे पोल खोलने

आम आदमी पार्टी अपने विकास कार्यों का इतना बढ़ चढ़कर ढिंढोरा पीट रही है कि उसे दूसरे राज्य सरकारों के विकास कार्य नहीं सुहाते हैं ।

AAP अपने विकास कार्यों का इतना बढ़ चढ़कर ढिंढोरा पीट रही है कि उसे दूसरे राज्य सरकारों के विकास कार्य नहीं सुहाते हैं। इसलिए कुछ दिनों से दिल्ली के ‘डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) और राज्यसभा सांसद संजय सिंह उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड सरकारों के 4 साल के विकास कार्य को ‘जीरो’ करार दे रहे हैं’।

Manish Sisodia - Trivandra-Kejariwal
Manish Sisodia – Trivandra-Kejariwal

यही नहीं सिसोदिया (Manish Sisodia) तो दिल्ली से ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और त्रिवेंद्र सिंह रावत को ललकारते रहते हैं । सोमवार को भी सिसोदिया ने राजधानी देहरादून में वही किया, खुली बहस में जब उत्तराखंड के कैबिनेट मंत्री के न पहुंचने पर उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने राज्य सरकार पर खुलेआम तंज कसते रहे । सिसोदिया ने कहा कि अगर उत्तराखंड में कुछ काम हुआ होता तो सामने आकर वह बताते।

‘सिसोदिया (Manish Sisodia) ने पहले उत्तराखंड के कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक को दिल्ली मॉडल और उत्तराखंड के विकास कार्यों को लेकर बहस की चुनौती देते हुए बुलाया था, जब कौशिक नहीं आए तब सिसोदिया सड़क पर खड़े होकर ही त्रिवेंद्र सिंह रावत सरकार की पोल खोलने में जुट गए’ । डिप्टी सीएम सिसोदिया के मुताबिक शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक उनकी चुनौती स्वीकार नहीं कर पाए ।

कौशिक के न आने पर मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने कहा कि अब विश्वास हो गया है कि उत्तराखंड सरकार आम आदमी पार्टी से अपने विकास कार्यों को क्यों छुपाती फिर रही है ? इस दौरान उन्होंने कहा कि मदन कौशिक के न आने से यह साफ हो गया है कि अगर जीरो वर्क त्रिवेंद्र सरकार ने कुछ काम किया होता तो वह सामने आकर बताते ।

त्रिवेंद्र सिंह के विधानसभा क्षेत्र में स्कूल का निरीक्षण करने पहुंचे सिसोदिया ने दी चुनौती

आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता और दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) सोमवार को एक बार फिर अपनी सियासी जमीन तलाशने उत्तराखंड की राजधानी देहरादून पहुंचे, इस दौरान उनके तेवर काफी आक्रामक थे । बात को आगे बढ़ाए उससे पहले बता दें कि सिसोदिया ने पिछले दिनों पहले उत्तराखंड के कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक को दिल्ली मॉडल पर खुली बहस की चुनौती दी थी ।

Manish Sisodia - Kaushik-Uttrakhand
Manish Sisodia – Kaushik-Uttrakhand

इसी को लेकर सोमवार को सिसोदिया दून पहुंचे। बता दें कि आम आदमी पार्टी के नेता सिसोदिया दून स्थित आईआरडीटी ऑडिटोरियम में उत्तराखंड के कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक का लगभग आधे घंटे तक इंतजार करते रहे, लेकिन कौशिक नहीं पहुंचे।

डिप्टी सीएम सिसोदिया (Manish Sisodia) ने कहा कि भाजपा की संस्कृति चुनौती देकर भाग जाने की है। गौरतलब है कि दिल्ली के डिप्टी सीएम के जवाब में कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक ने कहा कि उत्तराखंड बनाम दिल्ली मॉडल पर चर्चा करने के लिए तैयार हैं लेकिन इसके लिए वह खुद दिल्ली आकर आम आदमी पार्टी को चुनौती देंगे। इसके बाद ‘डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया त्रिवेंद्र सरकार के विधानसभा क्षेत्र डोईवाला में एक सरकारी स्कूल का निरीक्षण करने पहुंचे। सिसोदिया ने यहां स्कूल की दशा देखकर कहा कि जब सीएम की विधानसभा के सरकारी स्कूल का यह हाल है तो फिर बाकी प्रदेश के स्कूलों की हालत क्या होगी’।

आम आदमी पार्टी उत्तर प्रदेश-उत्तराखंड की सरकारों को चुनौती देने में लगी हुई है

आपको बता दें कि आम आदमी पार्टी उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव लड़ने का एलान कर चुकी है तभी से वह दिल्ली मॉडल पर दोनों राज्य सरकारों को आए दिन चुनौती देती रहती है। आम आदमी पार्टी के राज्य सभा सांसद संजय सिंह ने उत्तर प्रदेश में डेरा जमा कर योगी आदित्यनाथ को चुनौती दे रहे हैं।

Trivandra Government3

इसी क्रम में सोमवार को डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने उत्तराखंड की भाजपा सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के पास विकास कार्य को गिनाने के लिए कुछ भी नहीं है । उन्होंने दावा किया कि 20 साल से उत्तराखंड की जनता जिन मुद्दों को लेकर जूझ रही है, आम आदमी पार्टी उन्हीं मुद्दों पर काम करेगी।

बता दें कि दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) और यूपी के शिक्षा मंत्री के बीच भी कुछ दिन पहले शिक्षा के मुद्दे पर बहस की चर्चा छिड़ी थी । उस समय भी मनीष सिसोदिया ने उत्तर प्रदेश जाकर भारतीय जनता पार्टी सरकार के कैबिनेट मंत्री को बहस की चुनौती दी थी, लेकिन लखनऊ में भी मंत्री नहीं पहुंचे थे। उसके बाद मनीष सिसोदिया सड़क पर ही चिल्लाकर योगी सरकार की पोल खोलने लगे थे।

BJP अब इन महापुरूषों के दम पर हासिल करेगी बंगाल का सिंहासन!

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *