अगर त्वचा पर इंफेक्शन के लक्षण दिखने लगे तो तुरंत करें ये उपाए

स्किन प्रोब्लम बहुत प्रकार से होती हैं एलर्जी की वजह से त्वचा पर जगह-जगह खुजली, रेडनेस, सूजन और लाल चकत्ते पड़ने शुरू हो जाते हैं।

स्किन प्रोब्लम बहुत प्रकार से होती हैं एलर्जी की वजह से त्वचा पर जगह-जगह खुजली, रेडनेस, सूजन और लाल चकत्ते पड़ने शुरू हो जाते हैं। यह सभी के लिए चिंता का कारण बन जाता है। आपको जैसे ही त्वचा पर इंफेक्शन के लक्षण दिखने लगे फौरन डॉक्टर से सलाह करनी चाहिए, ताकि समय रहते इसका इलाज हो सके। इसके अलावा कुछ घरेलू उपाय भी हैं जो आप आज़मा सकते हैं।

skin allergies

  • स्किन एलर्जी के कारण
  • पराग
  • धूल/ मिट्टी
  • पालतू पशु
  • खाना
  • कीड़े के काटने से
  • दवाई
  • शैम्पू
  • परफ्यूम
  • साफ-सफाई के लिए इस्तेमाल होने वाले पदार्थ
  • त्वचा पर लगाई गई दवा
  • लिपस्टिक और साबुन

स्किन एलर्जी के लिए घरेलू उपाय-

सेब का सिरका-

सेब का सिरका यानी एप्पल साइडर विनेगर) एल्कलाइन प्राकृति का होता है। इसमें एंटीइंफ्लामेटरी और एंटी-बैक्टीरियल गुण भी होते हैं। इन गुणों की मदद से इसे त्वचा पर लगाने से एलर्जी में आराम मिलता है और त्वचा पर संक्रमण बढ़ता नहीं है। इसके लिए आपको चाहिए सेब के सिरके का एक बड़ा चम्मच और एक कप पानी। पानी को गर्म करके उसमें सेब का सिरका मिला लें। अब रूई की मदद से इस मिश्रण को प्रभावित जगह पर लगाएं। 15 से 20 मिनट लगे रहने के बाद धो लें। जब तक स्किन एलर्जी में सुधार नहीं होता, तब तक आप इस प्रक्रिया को रोज़ाना कर सकते हैं।

एलोवेरा

एलो वेरा जेल को अपने हीलिंग गुणों के लिए जाना जाता है इसलिए, स्किन एलर्जी के इलाज में भी इसका उपयोग किया जाता है। इसमें मौजूद एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण खुजली और लाल चकत्तों से राहत दिलाने में मदद करते हैं।

इसके लिए आपको ज़रूरत पड़ेगी ताज़ा एलो वेरा जेल की। इस जेल को प्रभावित जगह पर लगाएं और 30 मिनट के लिए लगे रहने दें। सूखने पर धो लें। जब तक त्वचा की समस्या ठीक न हो जाए और इसे लगाते रहें।

नारियल तेल

नारियल तेल मॉइश्चराइज़िंग गुणों से भरपूर होता है। इसमें एनाल्जेसिक और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण मौजूद होते है, इसलिए, माना जाता है कि नारियल का तेल त्वचा की एलर्जी के कारण होने वाली रेडनेस और खुजली से छुटकारा दिलाने में मदद कर सकता है। इसे इस्तेमाल करने के लिए नारियल के तेल की कुछ बूंदों को हथेली पर लेकर प्रभावित त्वचा पर लगाएं। 20 से 30 मिनट बाद त्वचा को सादे पानी से धोएं और फिर तौलिए से सुखा लें।

तुलसी

तुलसी में एंटी-बैक्टीरियल गुणों से भरपूर होती है, जो आपकी त्वचा को संक्रमण से बचाने का काम करती है। इसके अलावा, इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो स्किन एलर्जी से जुड़ी रेडनेस, सूजन और खुजली में आराम दिलाते हैं। साथ ही ये एंटी-एलर्जिक भी होती है। तुलसी के पत्तों को धोकर इसका पेस्ट बना लें। अब इसे प्रभावित जगह पर लगाएं और 20 से 30 मिनट बाद धो लें। राहत न मिलने तक इसे इस्तेमाल करते रहें।

नीम

नीम में एंटीइंफ्लेमेटरी और एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं, जो एलर्जी के कारण त्वचा में हुई खुजली, रेडनेस और सूजन को कम करते हैं। इसमें प्राकृतिक एंटीहिस्टामाइन गुण भी होता हैं, जो स्किन एलर्जी के इलाज में असरदार माना जाता है। नीम के पत्तों को पीसकर पेस्ट बना लें और त्वचा पर लगा कर 20 से 30 मिनट के लिए छोड़ दें। सूखने पर इसे पानी से धो लें। जब तक सुधार न दिखे इसे लगाते रहें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *