रामपुर में बनकर तैयार हुआ भारत का पहला अमृत सरोवर, योगी सरकार के प्रयासों की पीएम मोदी ने की तारीफ

लखनऊ, 24 अप्रैल: योगी सरकार के प्रयासों से रामपुर की ग्राम पंचायत पटवाई में भारत का पहला अमृत सरोवर बनकर तैयार चुका है। राज्य सरकार प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की परिकल्पना को साकार करने में जुटी है। आजादी के अमृत महोत्सव के तहत लिए गये संकल्पों में से 75 अमृत सरोवर की योजना के कार्य युद्ध स्तर पर करा रही है। इन प्रयासों की कड़ी में सबसे पहले रामपुर में गंदगी से पटे तालाब को कुछ ही हफ्तों में साफ करके उसका कायाकल्प किया गया है। यहां से कब्जे हटाए गये। अब यह तालाब रमणीक स्थल के रूप में ग्रामीण पर्यटन का बड़ा केन्द्र बन चुका है।

Rampur amrit mahotsav

योगी सरकार ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के स्वच्छ भारत, जलशक्ति तथा कब्जा मुक्ति के आह्वान पर अमृत सरोवर बनाने के काम को रामपुर से शुरू किया है। रामपुर में 75 तालाबों का चयन अमृत सरोवर के रूप में विकसित करने के लिए किया गया। चयनित तालाबों में से विकास विकासखंड शाहबाद के ग्राम पंचायत पटवाई के तालाब का कार्य पूरा कराया गया। अब ग्राम पंचायत सिंगन खेड़ा में सबसे अधिक क्षेत्रफल (1.67 हेक्टेयर) वाले तालाब का काम भी शुरू हो चुका है। अगले 03 महीनों में कूड़े और गंदगी से पटे रहने वाला यह तालाब अमृत सरोवर के रूप में ग्रामीण पर्यटन का बढ़ा केन्द्र बन जाएगा।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को मन की बात में यूपी के रामपुर में यूपी सरकार की ओर से तैयार किये गये इस पहले अमृत सरोवर की तारीफ और तालाब की सफाई में जुटने वाले गांव के लोगों और स्कूली को बधाई भी दी। पीएम मोदी ने कहा कि वो दिन दूर नहीं जब आपके अपने शहर में 75 अमृत सरोवर होंगे।

उन्होंने कहा कि आजादी के 75वें साल में आजादी के अमृत महोत्सव में देश जिन संकल्पों को लेकर आगे बढ़ रहा है उनमें जल संरक्षण भी एक है। अमृत महोत्सव के दौरान देश के हर जिले में 75 अमृत सरोवर बनाए जाएंगे। आप कल्पना कर सकते हैं कि कितना बड़ा अभियान है। वो दिन दूर नहीं जब आपके अपने शहर में 75 अमृत सरोवर होंगे।

3 माह में योगी सरकार ने रामपुर में तैयार किया भारत का पहला अमृत सरोवर

राज्य सरकार की ओर से शुरू की गई 75 अमृत सरोवर की योजना से गांव के लोग, स्कूली बच्च और स्वच्छता प्रहरी जुड़ रहे हैं। तालाबों की सफाई कर रहे हैं। राज्य सरकार तालाबों से कब्जों को हटवाने का काम भी तेजी से कर रही है। गौरतलब है कि ग्राम पंचायत पटवाई में बने भारत के पहले अमृत सरोवर का काम राज्य सरकार ने इस साल जनवरी माह से शुरू किया।

मनरेगा कन्वर्जेंन्स, क्षेत्र पंचायत निधि और ग्राम पंचायत निधि से सरोवर की रिटेनिंग वॉल, चारदिवारी, इंटरलॉकिंग, फूडकोर्ट, स्टोनपिचिंग, पैडल वोट, ग्रीन एरिया, फव्वारे लगाए गये। यहां प्रकाश की भी व्यवस्था की गई। देखते ही देखते वर्षा जल संचयन और जल संरक्षण के साथ रमणीक स्थल के रूप में अब यह सरोवर अब विकसित हो चुका है।

इस सरोवर के बन जाने से रामपुर के गांवों का भूजल स्तर भी सुधरेगा। साथ ही लोगों को नौकाविहार के साथ यहां की हरियाली का आनन्द लेने का मौका मिलेगा। सरोवर के विकास से ग्राम वासियों की आय के साधन सृजित होंगे और ग्राम पंचायत की आय में भी वृद्धि होगी।