यहां अनाज में लग रहे कीड़े, दो महीना के लाभ से वंचित हैं उपभोक्ता

मधुबनी जिले के सीमावर्ती क्षेत्र मधवापुर प्रखंड में पीडीएस डीलरों के पास गोदाम में करीब दो हजार क्विंटल अनाज सड़ रहे हैं।चावल- गेहूं में कीड़े लग जाने की सूचना है। परंतु यहां बाढ में विस्थापित हुए उपभोक्ताओं को अन्न की दिक्कत हो गयी है। इस मुद्दे पर लोग प्रशासन पर ध्यान नहीं देने का आरोप लगा रहे हैं।

Grain bug

यहां विस्थापित गरीब परिवार अनाज के लाभ से विगत दो महीना से वंचित हैं।गरीब परिवार को अनाज के लिए मोहताज होना पड़ रहा है।बताया गया है कि मधवापुर प्रखंड की दस पंचायतों के करीब पचास जन वितरण प्रणाली के डीलरों ने अनाज तो उठा लिया गया है लेकिन उसका वितरण नहीं किया हैं।

एक लाख 25 हजार गरीब उपभोक्ताओं को उनका सरकारी अनाज बकाया है जबकि डीलरों ने करीब दो हजार टन से अधिक चावल गेहूं का उठाव अगस्त महीने के प्रथम सप्ताह से लेकर 20 तारीख तक के बीच कर किया है।इस संबंध मेंं पदाधिकारी बयान देने से बच रहे हैं।

इधर बाढ प्रभावित उपभोक्ताओं का घर का सामान, अनाज वगैरह सभी बाढ़ के पानी में बर्बाद हो गए हैं। ।विस्थापित परिवार ऊंची जगहों पर शरण ले ली।बाद में घर लौटे तो खाने को अनाज नहीं है। जन वितरण प्रणाली के डीलर दो माह से अनाज नहीं दे रहे हैं

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *