Trending

Kanpur Violence : कानपुर हिंसा मचानें वालों की अब खैर नहीं, 42 गवाहों ने देखा पथराव और बमबाजी,  बड़ी कार्रवाई की तैयारी कर रही एसआईटी

जुमे की नमाज के बाद नूपुर के बयान पर कानपुर में हुई हिंसा में एसआईटी ने बड़ी कार्रवाई की तैयारी कर ली है। बतादें की...

कानपुर। जुमे की नमाज के बाद नूपुर के बयान पर कानपुर में हुई हिंसा में एसआईटी ने बड़ी कार्रवाई की तैयारी कर ली है। बतादें की 62 लोगों की गवाही हो चुकी है। 42 ऐसे गवाह है जिन्होंने पथराव और बमबाजी देखा है।

kanper hinsha
दरअसल कानपुर के नई सड़क हिंसा को लेकर शनिवार को 15 दिन पूरे हो चुके हैं। विवेचना के लिए गठित की गई एसआईटी ने 15 दिनों में 145 पर्चे काट दिए हैं। प्रतिदिन नौ की औसत से पर्चे काटे गए हैं। 62 लोगों की गवाही हो चुकी है। एसआईटी का दावा है कि 90 दिनों में वह इस प्रकरण में चार्जशीट फाइल कर देगी।

एसआईटी के अबतक के काटे गए पर्चों में 42 ऐसे गवाहों को शामिल किया गया है जिनके सामने पथराव और बमबाजी हुई थी। उन्हीं के बयान में एसआईटी ने यह भी शामिल किया है कि घटना के समय कैसे इलाकाई लोग दहशत में आकर इधर उधर भागने पर मजबूर हो गए थे।

15 ऐसे गवाह शामिल किए गए हैं जिनके सामने फायरिंग हुई थी। अब तक की विवेचना में पांच पुलिस कर्मियों को भी शामिल किया गया है। जिन्होंने यह बताया है कि घटना की शुरुआत कैसे हुई। कैसे भीड़ की शक्ल जुलूस ने ले ली और फिर पथराव शुरू हो गया।

Kanpur Violence : कानपुर हिंसा मचानें वालों की अब खैर नहीं, 42 गवाहों ने देखा पथराव और बमबाजी,  बड़ी कार्रवाई की तैयारी कर रही एसआईटी