Kisan Andolan Chakka Jam : हाईवे पर रोकी जा रहीं गाड़ियां, दिल्ली में मेट्रो स्टेशन बंद 

किसानों के चक्का जाम को कांग्रेस ने पूरा समर्थन दिया है। दोपहर 12 बजे से शुरू हुआ चक्का जाम 3 बजे तक चलेगा। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार वह पहले जैसी गलती इस बार नहीं करेंगे। पहले भी किसानों ने शांतिपूर्ण ट्रैक्टर रैली निकालने का अश्वासन दिया था, बावजूद इसके राजधानी दिल्ली के विभिन्न इलाकों में हिंसा हुई। इसी को ध्यान में रखते हुए पुलिस ने भी अपनी कमर कस ली है।

नई दिल्ली। किसानों के चक्का जाम को कांग्रेस ने पूरा समर्थन दिया है। दोपहर 12 बजे से शुरू हुआ चक्का जाम 3 बजे तक चलेगा। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार वह पहले जैसी गलती इस बार नहीं करेंगे। पहले भी किसानों ने शांतिपूर्ण ट्रैक्टर रैली निकालने का अश्वासन दिया था, बावजूद इसके राजधानी दिल्ली के विभिन्न इलाकों में हिंसा हुई। इसी को ध्यान में रखते हुए पुलिस ने भी अपनी कमर कस ली है।

Kisan Andolan Chakka Jam

हालांकि भारतीय किसान यूनियन (टिकैत) के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने शुक्रवार को ही कह दिया था कि दिल्ली, उत्तर प्रदेश एवं उत्तराखंड में चक्का जाम नहीं होगा। टिकैत ने कहा था कि चक्का जाम के दौरान एंबुलेंस, स्कूल बस, बुजुर्गों, रोगियों, महिलाओं और बच्चों को कोई असुविधा ना हो इसका पूरा ध्यान रखा जाये।
चक्का जाम के आह्वान को देखते हुए पुलिस सभी बॉर्डर पर निगरानी के लिए ड्रोन का इस्तेमाल कर रही है।

यहां किये सुरक्षा इंतजाम ज्यादा

किसानों के चक्का जाम के आह्वान के बाद पुलिस ने दिल्ली के आईटीओ पर भारी संख्या में सुरक्षाबल को तैनात किया गया है। इसी क्रम में गाजीपुर बॉर्डर, सिंघु बॉर्डर, टिकरी बॉर्डर के साथ ही शाहजहांपुर बॉर्डर (दिल्ली-राजस्थान बॉर्डर) पर बड़ी संख्या में सुरक्षाबल को तैनात किया गया है।

50 हजार जवान तैनात

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार दिल्ली-एनसीआर में दिल्ली पुलिस, पैरामिलिट्री और रिजर्व फोर्सेस के करीब 50 हजार जवान तैनात हैं। किसी भी गड़बड़ी के मद्देनजर राष्ट्रीय राजधानी में कम से कम 12 मेट्रो स्टेशनों को प्रवेश और निकास के लिए अलर्ट पर रखा गया है।

इन इलाकों में धारा 144 लागू

दिल्ली पुलिस ने सुरक्षा के चाक चौबंद इंतजाम किए हैं और सभी महत्वपूर्ण इलाकों में पहले ही धारा 144 लागू कर दी गई है। इनमें नई दिल्ली जिला क्षेत्र, कनाट प्लेस, जतंर-मंतर, संसद भवन एवं अन्य इलाकों में धारा 144 लगाई गई है।

किसान चक्का जामः दिल्ली के आठ मेट्रो स्टेशन बंद

गणतंत्र दिवस पर हुई ट्रैक्टर मार्च के दौरान दिल्ली में हिंसा देखने को मिली थी, जिससे सबक लेते हुए दिल्ली पुलिस ने गाजीपुर बॉर्डर सहित सभी बॉर्डर पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए हैं। इसके साथ ही सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए दिल्ली के 8 मेट्रो स्टेशनों को बंद कर दिया गया है। इनमें मंडी हाउस, आईटीओ, दिल्ली गेट, लाल किला, जनपथ, जामा मस्जिद, विश्वविद्यालय और सेंट्रल सेक्रेटेरिएट मेट्रो स्टेशन शामिल हैं। इन मेट्रो स्टेशन से यात्री ना तो अंदर आ सकेंगे और ना ही बाहर जा सकेंगे।

अपडेट्स…

  • किसानों ने राजस्थान-हरियाणा के बीच शाहजहांपुर बॉर्डर पर जाम लगा दिया है।
  • पंजाब में अमृतसर और मोहाली में किसान गाड़ियों को रोकने के लिए सड़कों पर बैठ गए हैं।
  • जम्मू-पठानकोट हाईवे पर किसान ने सड़कों पर गाड़ियों की आवाजाही रोक दी है।
  • जॉइंट सीपी, दिल्ली पुलिस ने बताया कि किसी भी परिस्थिति से निपटने के लिए पुलिस मुस्तैद है। अतिसंवेदनशील इलाकों में CCTV कैमरे लगाए गए हैं।
  • राहुल गांधी ने सोशल मीडिया पर लिखा- अन्नदाता का शांतिपूर्ण सत्याग्रह देशहित में है- ये तीन कानून सिर्फ किसान-मजदूर के लिए ही नहीं, जनता और देश के लिए भी घातक हैं। पूर्ण समर्थन!
  • अकाली दल की सांसद हरसिमरत कौर बादल ने कहा कि केंद्र सरकार को गलतफहमी है कि कृषि कानूनों का विरोध केवल पंजाब में हो रहा है। देश के सभी किसान इसके खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं। अगर इसके बावजूद वह (केंद्र सरकार) आंखें बंद करके इसे केवल पंजाब का विरोध बता रहे हैं तो इसके लिए कोई कुछ नहीं कर सकता।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *