जानें -धुमेह के मरीजों के लिए गुलाब के डंठल किसी वरदान से कम नहीं हैं

आज के ज़माने में छोटे से बड़े तक चाय के दीवाने होते हैं खासकर कर अब तो चाय और कॉफी फैशन बन चूका हैं, लेकिन उम्र के हिसाब से

हेल्थ डेस्क। आज के ज़माने में छोटे से बड़े तक चाय के दीवाने होते हैं खासकर कर अब तो चाय और कॉफी फैशन बन चूका हैं, लेकिन उम्र के हिसाब से जल्दी ही लोग शुगर के मरीज हो जा रहे हैं। लोग अपने दिन की शुरुआत चाय या कॉफी से करते हैं। भारत में इसकी खपत सबसे अधिक है।

यहां लोग चाय पीने के बहाने ढूंढते हैं। डॉक्टर भी सेहतमंद रहने के लिए ग्रीन टी पीने की सलाह देते हैं। ग्रीन टी में कई औषधीय गुण पाए जाते हैं, जो सेहत और सुंदरता दोनों के लिए फायदेमंद होते हैं। खासकर मोटापा और मधुमेह के लिए ग्रीन टी किसी दवा से कम नहीं है।

मधुमेह रक्त में शर्करा स्तर बढ़ने और अग्नाशय से इंसुलिन हार्मोन नहीं निकलने के चलते होती है। अगर आप भी मोटापा और मधुमेह से परेशान हैं, तो रोजाना रोज हिप यानी गुलाब के डंठल की चाय पिएं। इससे वजन घटाने और शुगर कंट्रोल करने में मदद मिलती है। तो आइए जानते हैं-

रिसर्चगेट पर छपी एक शोध में दावा किया गया है कि मधुमेह के मरीजों के लिए गुलाब के डंठल किसी वरदान से कम नहीं है। इसके सेवन से शुगर कंट्रोल में रहता है। यह शोध चूहों पर किया गया है। इस शोध में चूहों को 6 हफ्तों तक रोजाना 40 ग्राम रोज हिप पाउडर डाइट में दी गई।

इसका परिणाम बेहद संतोषजनक मिला है। शोध की मानें तो रोज हिप न केवल शुगर कंट्रोल करने में सक्षम है, बल्कि बढ़ते वजन को कंट्रोल कर सकता है। साथ ही उच्च रक्तचाप भी कंट्रोल में रहता है।
कैसे करें सेवन

विशेषज्ञों की मानें तो दिनभर में दो कप से अधिक चाय नहीं पीनी चाहिए। इसके लिए सुबह और शाम दो समय चाय पिएं। सामान्य चाय की तरह गुलाब के डंठल की चाय बनाकर सेवन करें।

इसके अलावा, आप रोज हिप पाउडर का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। खासकर सुबह में खाली पेट गुनगुने गर्म पानी या दूध में रोज हिप के पाउडर को मिलाकर पिएं। इससे शुगर कंट्रोल में रहता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *