KKR से मिली हार के बाद आया कोहली का बयान, कहा- मैंने 140 मैच खेले लेकिन॰॰॰

विराट ने कहा है कि जब तक वह इंडियन प्रीमियर लीग में खेलेंगे तब तक रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए ही खेलेंगे

RCB में विराट कोहली की कप्तानी की पारी इंडियन प्रीमियर लीग 2021 में कोलकाता के हाथों मिली हार के साथ समाप्त हो गई। आईपीएल के 11 सीजन में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की कमान संभालने वाले विराट ने इस दौरान कई उतार-चढ़ाव देखे। मैच के बाद कोहली ने कहा कि बतौर कप्तान उन्होंने अपना 100 % फ्रेंचाइजी को दिया।

साथ ही विराट ने कहा है कि जब तक वह इंडियन प्रीमियर लीग में खेलेंगे तब तक रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए ही खेलेंगे। कोहली की कप्तानी में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने इंडियन प्रीमियर लीग में 140 मैच खेले। जिसमें से उन्होंने 64 मैच जीते और 69 मैचों में हारे। इसके अलावा चार मैच बेनतीजा रहे।

हार के पश्चात विराट ने कहा कि मैं बस इतना कह सकता हूं कि मैंने हमेशा रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ देने की कोशिश की है। मुझे नहीं पता कि दूसरे लोग क्या सोचते हैं। हालांकि मैं एक बात कह सकता हूं कि मैंने हर साल एक कप्तान के रूप में कोशिश की है, मैंने फ्रेंचाइजी को अपनी 120 % प्रतिबद्धता देने की कोशिश की है।

तो वहीं विराट ने कहा कि मैं खुद को इंडियन प्रीमियर लीग में कहीं और खेलते हुए नहीं देखता। दुनिया ने भले ही और भी कई चीजों को अहम माना हो किंतु मेरे लिए वफादारी से बढ़कर कुछ नहीं है। फ्रेंचाइजी ने हमेशा मुझ पर भरोसा जताया है और मैं भी जब तक मैं आईपीएल खेलूंगा, तब तक मैं रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए ही खेलूंगा।

आत्मविश्वास से क्रिकेट खेलें युवा

RCB के कप्तान ने कहा कि मैंने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर कैंप में ऐसा कल्चर बनाने की कोशिश की है कि युवा खिलाड़ी निडर होकर और आत्मविश्वास से क्रिकेट खेल सकें। यही मैंने भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान के रूप में भी किया है। वहीं विराट ने कहा कि अब मैं एक खिलाड़ी के तौर पर अपना सर्वश्रेष्ठ देने की कोशिश करूंगा। अगले तीन साल में हम रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को नए सिरे से तैयार करेंगे और ऐसे लोगों को साथ लाएंगे जो आने वाले समय में इस फ्रेंचाइजी का नेतृत्व करेंगे। क्या कर सकते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *