कोरोना मरीजों के लिए देवदूत बनी पुलिस, इस तरह बचाई 100 से ज्यादा लोगों की जान

जानलेवा संक्रमण कोरोना से संक्रमित मरीजों के लिए कोलकाता पुलिस के जवान देवदूत रहे हैं।

कोलकाता॥ जानलेवा संक्रमण कोरोना से संक्रमित मरीजों के लिए कोलकाता पुलिस के जवान देवदूत रहे हैं। पूरे संक्रमण काल के दौरान प्लाज्मा दान कर 102 से ज्यादा लोगों की जान कोलकाता पुलिस के कर्मियों और अफसरों ने बचाई है।

Police station

लाल बाजार स्थित कोलकाता पुलिस मुख्यालय की तरफ से मिली खबर में बताया गया है कि ऐसे कई पुलिसकर्मी थे जो महामारी की चपेट में आए थे और स्वस्थ हो गए हैं। उन कर्मियों ने अपना प्लाज्मा दान किया ताकि महामारी की वजह से मौत से जंग लड़ रहे लोगों के शरीर में प्लाज्मा देकर उनकी जान बचाई जा सके।

पुलिस मुख्यालय की तरफ से बताया गया है कि कोलकाता पुलिस के 3350 कर्मी इस महामारी की चपेट में आए थे। इनमें से अधिकतर स्वस्थ हो गए हैं जिनके जिस्म में अपने आप एंटीबॉडी तैयार हुआ है। इसलिए कोलकाता पुलिस के स्वस्थ होने वाले कर्मचारियों ने स्वेच्छा से अपना प्लाज्मा दान किया और पूरे संक्रमण काल के दौरान 102 लोगों की जान बचाई। लाल बाजार के एक सीनियर पुलिस अफसर ने बताया है कि पुलिसकर्मी प्लाज्मा दान के लिए हमेशा तैयार हैं। कोविड-19 से पीड़ित मरीजों के परिजन अगर आवेदन करें तो पुलिसकर्मी उनकी सहायता जरूर करेंगे।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *