Trending

LIVE Agnipath: अग्निवीरों के लिए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह का बड़ा ऐलान, CRPF व असम राइफल्स में मिलेगा 10% आरक्षण

LIVE Bihar Bandh Against Agnipath: अग्निपथ योजना के विरोध में आज बिहार बंद का विपक्षी दलों का समर्थन है।

LIVE Bihar Bandh Against Agnipath: सेना में भर्ती की अग्निपथ योजना (Agnipath Scheme) का विरोध कम होना तो दूर की बात बढ़ता ही जा रही है प्रदर्शन इस कदर जारी है, की आज प्रदर्शनकारियों द्वारा बिहार बंद का ऐलान किया गया है, जिसे लालू यादव की पार्टी RJD समेत तमाम विपक्षी दलों ने समर्थन किया है।

amitshah

आशंका जताई जा रही है कि Agnipath Scheme के खिलाफ शनिवार को भी हिंसक विरोध प्रदर्शन जारी रह सकता है और तो वहीं कई जिलों में धारा 144 लगाई गई है आलम ये है की, इंटरनेट भी बंद करना पढ़ गया है।

पुलिस के साथ ही अतिरिक्त सुरक्षा बलों को लगाया गया है। इससे पहले शुक्रवार को भी Agnipath Scheme के विरोध में सबसे ज्यादा बवाल बिहार में ही मचा। यहां पढ़िए बिहार बंद (LIVE Bihar Bandh Against Agnipath) और आज के विरोध प्रदर्शन से जुड़ी हर अपडेट

LIVE Bihar Bandh Against Agnipath latest Updates

गृह मंत्री अमित शाह ने किए अहम ट्वीट: अमित शाह ने ट्वीट कर जानकारी दी कि गृह मंत्रालय ने CAPFs और असम राइफल्स में होने वाली भर्तियों में अग्निपथ योजना के अंतर्गत 4 साल पूरा करने वाले अग्निवीरों के लिए 10% रिक्तियों को आरक्षित करने का महत्वपूर्ण निर्णय लिया है।

साथ ही गृह मंत्रालय ने CAPFs और असम राइफल्स में भर्ती के लिए अग्निवीरों को निर्धारित अधिकतम प्रवेश आयु सीमा में 3 वर्ष की छूट देने का निर्णय किया है। और अग्निपथ योजना के पहले बैच के लिए यह छूट 5 वर्ष होगी।

अग्निपथ योजना पर आज अहम बैठक: रक्षा मंत्री राजनाथ ने अग्निपथ योजना को लेकर एक अहम बैठक बुलाई है। दिल्ली में होने वाली इस बैठक में तीनों सेना प्रमुख के साथ ही रक्षा सचिव और सूचना तथा प्रसारण मंत्रालय के सचिव हिस्सा लेंगे।

बता दें, विरोध के बावजूद सरकार इस दिशा में आगे बढ़ने का फैसला कर चुकी है। शुक्रवार को सेना प्रमुख ने बताया था कि 2 दिन में नोटिफिकेशन जारी कर दिया जाएगा और 24 जून से भर्ती प्रक्रिया शुरू हो जाएगी।

रेलवे को सबसे ज्यादा नुकसान: शुक्रवार को योजना के खिलाफ विरोध का दूसरा दिन था। इस दिन बिहार के साथ ही झारखंड, यूपी, हरियाणा, राजस्थान, मध्यप्रदेश, तेलंगाना में ट्रेनों को निशाना बनाया गया। सबसे ज्यादा नुकसान रेलवे को हुआ। रेल मंत्री समेत सरकार के तमाम बड़े लोगों ने युवाओं से अपील की है कि वे सरकारी सम्पत्ति को नुकसान न पहुंचाए।

रहास्य : खौफनाक, सुनसान और डरावने गांव ये राज एक रात में हो गया था वीरान, जानिए पूरी कहानी