बंगाल में 8 महीने बाद शुरू हुई ये अहम सेवा, लोगों ने जताई खुशी

ट्रेनों में यात्रा के लिए रेलवे और राज्य सरकार की ओर से कई दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं।

लॉक डाउन खत्म होने के बाद बंगाल में करीब आठ महीने बाद बुधवार सुबह से उपनगरीय लोकल ट्रेनों का परिचालन फिर से शुरू हो गया है। इससे लोगों ने खुशी जताई है। पूरी तैयारी के बीच सियालदह, हावड़ा व खड़गपुर डिविजन के विभिन्न शाखाओं में लोकल ट्रेनों के फिर से पटरी पर दौड़ने से आम यात्रियों ने बड़ी राहत की सांस ली है।

PEOPLE

कोरोना के चलते 22 मार्च से ही लोकल ट्रेनों का परिचालन पूरी तरह से बंद था। इस दौरान सिर्फ रेलवे कर्मचारियों के लिए स्टाफ स्पेशल ट्रेनें चल रही थीं। जानकारी के मुताबिक, शुरुआत में हावड़ा, सियालदह व खड़गपुर डिविजन में करीब 50 फीसद लोकल ट्रेनों का संचालन किया जा रहा है।‌ ट्रेनों में यात्रा के लिए रेलवे और राज्य सरकार की ओर से कई दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं।

कोच के बीच वाली सीट पर यात्री को बैठने की अनुमति नहीं होगी। रेलवे की ओर से इन सीटों पर क्रॉस का चिन्ह लगाया गया है, ताकि यात्री उस सीट पर नहीं बैठ सकें। यात्रियों से वैकल्पिक सीटों का लाभ उठाने का आग्रह किया गया है। सुबह और शाम को 84 फीसद ट्रेनें चलाने का फैसला लिया गया है। 84 फीसद ट्रेनें सुबह आठ से 11 बजे तक और शाम 4.30 बजे से रात 8.30 बजे तक चलेंगी।

ट्रेनों के स्टॉपेज की टाइमिंग में कोई बदलाव नहीं किया गया है। यात्रियों के लिए प्रत्येक स्टेशनों पर बैनर व पोस्टर लगाये गये हैं। बिना मास्क पहने किसी को भी यात्रा की अनुमति नहीं होगी। इधर, लोकल ट्रेन सेवा शुरू होने से एक दिन पहले मंगलवार को हावड़ा के डीआरएम इशाक खान एवं सियालदह के डी आर एम एस पी सिंह ने तैयारियों का जायजा लिया था।‌

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *